Bookmark and Share
उच्चतम न्यायालय ने सुरेंद्र कोली की सजाए मौत पर रोक 29 अक्तूबर तक बढ़ाई Print
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 12 September 2014 12:37


 नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने आज निठारी बलात्कार और सिलसिलेवार हत्याकांड के दोषी सुरेंद्र कोली की मौत की सजा पर रोक 29 अक्तूबर तक बढ़ा दी। 

न्यायमूर्ति एच एल दत्तू की अध्यक्षता वाली पीठ ने कोली के समीक्षा आग्रह पर मामले पर सुनवाई के लिए 29 अक्तूबर की तारीख निधारित की ।

    कोली ने हत्या के मामलों में से एक में उसकी दोषसिद्ध और मौत की सजा बरकरार रखे जाने के शीर्ष अदालत के फैसले की समीक्षा किए जाने का आग्रह किया था।

   पीठ में न्यायमूर्ति ए.आर. दवे भी शामिल हैं । नोएडा के गांव निठारी में 2006 में बच्चों की सिलसिलेवार हत्याओं के दोषी कोली की मौत की सजा पर पीठ ने 8 सितंबर को एक हफ्ते के लिए रोक लगा दी थी ।

    वरिष्ठ अधिवक्ता इंदिरा जयसिंह के नेतृत्व वाली वकीलों की टीम ने 42 वर्षीय कोली की ओर से याचिका दायर की थी और इसे कोली की फांसी से चंद घंटे


पहले आधी रात के बाद पीठ के समक्ष रखा गया था और आदेश रात 1 बजकर 40 मिनट पर पारित हुआ था ।

    कोली को मेरठ जेल में 8 सितंबर को फांसी दी जानी थी जहां उसे कड़ी सुरक्षा वाली बैरक में रखा गया है ।

    वकीलों ने शीर्ष अदालत के 24 जुलाई 2014 के उस आदेश की समीक्षा किए जाने का आग्रह किया था जिसमें कोली को मिली मौत की सजा के कार्यान्वयन पर रोक लगाने के आग्रह को खारिज कर दिया गया था ।

    मौत की सजा के कार्यान्वयन पर स्थगन का आग्रह करते हुए जयसिंह ने अधिवक्ता युग चौधरी और अन्य के साथ शीर्ष अदालत के 2 सितंबर के आदेश का उल्लेख किया था जिसमें व्यवस्था दी गई थी कि मौत की सजा पाए दोषियों की समीक्षा याचिका पर खुली अदालत में सुनवाई की जानी चाहिए ।

(भाषा)

आपके विचार