Bookmark and Share
सेबी भेदिया कारोबार के बड़े मामलों में ज्यादा कड़ी कार्रवाई के पक्ष में Print
User Rating: / 0
PoorBest 
Monday, 25 August 2014 13:21


नई दिल्ली। बाजार में गड़बड़ी करने वालों को कड़ा संदेश देने के लिए पूंजी बाजार नियामक सेबी भेदिया कारोबार के नियमों का प्रत्यक्ष तौर पर उल्लंघन करने वालों और इस तरह के बड़े मामलों में ज्यादा कड़ी कार्रवाई करने पर विचार कर रहा है।


    एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि भेदिया कारोबार से जुड़े दो दशक पुराने नियमों की समीक्षा हो रही है और नए नियम सेबी के निदेशक मंडल की मंजूरी के बाद करीब महीने भर में लागू किए जाएंगे।

    उन्होंने कहा कि साथ ही यह भी कोशिश की जा रही है कि नियमों के प्रत्यक्ष उल्लंघन और इस तरह के बड़े मामलों में ज्यादा सख्ती से निपटने के सिद्धांत का पालन करने की कोशिश की जा रही है।

    सेबी द्वारा नियुक्ति समिति द्वारा सुझाए गए व्यापक सुधार के मुताबिक


नया भेदिया कारोबार नियम तैयार किया जा रहा है वहीं नियामक की अंतरराष्ट्रीय परामर्श बोर्ड (आईएबी) ने भी सेबी के व्यापार नियमों में उल्लेखनीय बदलाव का सुझाव दिया है ताकि इन्हें वैश्विक मानदंडों के अनुरूप बनाया जा सके।

    वैश्विक स्तर पर नियामक भेदिया कारोबार पर ध्यान दे रहे हैं। हालांकि नियामकीय कार्रवाई से बचने के लिए नियमों का उल्लंघन करने वाले मौजूदा मानदंडों के पुराने पड़ चुके प्रावधानों का दुरच्च्पयोग करते हैं।

    आईएबी ने यह भी सुझाव दिया है कि प्रतिभूति बाजार में भेदिया कारोबार और अन्य अपराधों पर लगाम लगाने के लिए भारी दंड के साथ-साथ भेदिया कारोबार करने वालों का नाम उजागर कर उन्हें शर्मिंदा किया जाए।

(भाषा)

आपके विचार