मुखपृष्ठ संपादकीय
संपादकीय

जंग की धमकी

जनसत्ता 8 अप्रैल, 2013: आर्थिक प्रतिबंधों की मार झेल रहे उत्तर कोरिया की धमकी ने दुनिया भर के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी

 
हकीकत से दूर

हकीकत से दूर

जनसत्ता 6 अप्रैल, 2013: भारतीय उद्योग परिसंघ के मंच से राहुल गांधी के भाषण को लेकर स्वाभाविक ही मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आ

 

पुलिस का चेहरा

जनसत्ता 6 अप्रैल, 2013: करीब महीना भर पहले बिहार के पटना और पंजाब के तरनतारन में पुलिस का जो चेहरा देखने में आया, वह नई बात

 
कैसा परिवर्तन

कैसा परिवर्तन

जनसत्ता 5 अप्रैल, 2013: माकपा के छात्र संगठन स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया की पश्चिम बंगाल इकाई की राज्य समिति के सदस्य

 

रुतबे की बत्ती

जनसत्ता 5 अप्रैल, 2013: लालबत्ती लगी गाड़ियों के लिए तय मानदंडों पर अमल करने या नियमों को ज्यादा सख्त बनाने के लिए सर्वोच्च

 
मर्जी का लोकायुक्त

मर्जी का लोकायुक्त

जनसत्ता 4 अप्रैल, 2013: भारतीय जनता पार्टी नरेंद्र मोदी को आदर्श मुख्यमंत्री बताते नहीं थकती। यही नहीं, पार्टी अगला आम

 

दावे और हकीकत

जनसत्ता 4 अप्रैल, 2013: दिल्ली विधानसभा में पेश अपनी ताजा रिपोर्ट में कैग यानी नियंत्रक एवं महा लेखा परीक्षक ने यों तो

 
राहत की दवा

राहत की दवा

जनसत्ता 3 अप्रैल, 2013: उच्चतम न्यायालय के ताजा फैसले ने रक्त कैंसर से पीड़ित मरीजों को बड़ी राहत दी है। पर इस फैसले का महत्त्व

 

यातना के कारागार

जनसत्ता 3 अप्रैल, 2013: जेलों में अव्यवस्था और कैदियों के साथ होने वाले अमानवीय बर्ताव आदि को लेकर मानवाधिकार आयोग कई बार

 
मोदी की भाजपा

मोदी की भाजपा

जनसत्ता 2 अप्रैल, 2013: भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने अपनी जो नई टीम घोषित की है वह अगले चुनाव में पार्टी की नैया पार लगा पाएगी

 

तीन साल बाद

जनसत्ता 2 अप्रैल, 2013: आजादी के छह दशक से ज्यादा गुजर जाने के बाद हमारे देश में प्राथमिक शिक्षा को कानूनन नागरिक अधिकार के

 
«StartPrev6162636465NextEnd»

 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?