मुखपृष्ठ संपादकीय
संपादकीय
कर्तव्य की सजा

कर्तव्य की सजा

जनसत्ता 6 अगस्त, 2013: उत्तर प्रदेश के पिछले विधानसभा चुनावों के दौरान अखिलेश यादव ने बार-बार दोहराया था कि अगर इस बार

 

नाकामी की निधि

जनसत्ता 6 अगस्त, 2013: यह बेहद अफसोसनाक है कि अपने-अपने क्षेत्र के विकास की दुहाई देकर सांसद क्षेत्रीय विकास निधि की राशि में

 
संघ का साया

संघ का साया

जनसत्ता 5 अगस्त, 2013: भाजपा नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के तौर पर पेश करने का इरादा जताती रही है, अलबत्ता

 

आशंकाओं के बीज

जनसत्ता 5 अगस्त, 2013: जीएम यानी जीन-संशोधित फसलों को बढ़ावा देने के लिए केंद्र सरकार कटिबद्ध नजर आती है। इस मकसद से उसने एक

 
पारदर्शिता पर पानी

पारदर्शिता पर पानी

जनसत्ता 3 अगस्त, 2013: जब दो महीने पहले केंद्रीय सूचना आयोग ने फैसला सुनाया कि राजनीतिक दल भी सूचनाधिकार कानून के तहत आते हैं, तो इस पर दो

 

सहूलियत के रास्ते

जनसत्ता 3 अगस्त, 2013: राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र का खाका तैयार करने के पीछे मुख्य मकसद था दिल्ली की भीड़भाड़ को कम करना। इसके तहत

 
सूबे का आकार

सूबे का आकार

जनसत्ता 2 अगस्त, 2013: तेलंगाना राज्य को मंजूरी मिलने के बाद स्वाभाविक ही देश भर में अलग-अलग राज्यों की मांग को लेकर राजनीतिक

 

हंस अकेला

जनसत्ता 2 अगस्त, 2013: हमारे लोकतांत्रिक जीवन को हिंसा, धर्मांधता, सांप्रदायिकता, अनियंत्रित बाजार आदि से जितना खतरा है,

 
तेलंगाना की राह

तेलंगाना की राह

जनसत्ता 1 अगस्त, 2013: कांग्रेस में केंद्रीय नेतृत्व के स्तर पर एक हफ्ते तक चले विचार-विमर्श के बाद आखिरकार पार्टी की

 

व्यास की आस

जनसत्ता 1 अगस्त, 2013: पर्यटन उद्योग, कल-कारखानों, निर्माण कार्यों, विकास परियोजनाओं के नाम पर नदियों, झीलों, तालाबों को

 
जांच पर आंच

जांच पर आंच

जनसत्ता 31 जुलाई, 2013: मुंबई उच्च न्यायालय के फैसले से उन सवालों पर मुहर लगी है जो सट्टेबाजी और मैच फिक्सिंग के मद्देनजर

 
«StartPrev6162636465NextEnd»

 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?