मुखपृष्ठ फोटो फिल्म 'शार्टकट रोमियो' की एक झलक
फिल्म 'शार्टकट रोमियो' की एक झलक

सुसी गणेश के निर्देशन में बनने वाली फिल्म 'शार्टकट रोमियो' 21 जून को सिनेमाघरों में प्रदर्शित होगी। यह फिल्म तमिल फिल्म 'तिरूटटू पयले' की रीमेक है, जिसमें नील नील नितिन मुकेश के साथ अभिनेत्री अमीषा पटेल मुख्य भूमिका में नजर आएंगी। देखिये इस फिल्म की एक झलक।

फोटो
नील नितिन मुकेश अपनी आने वाली फिल्म ‘शार्टकट रोमियो’ को लेकर बेहद ही उत्साहित हैं।
नील नितिन मुकेश...
यह फिल्म तमिल फिल्म 'तिरूटटू पयले' की रीमेक है, जिसमें नील के साथ अभिनेत्री अमीषा पटेल मुख्य भूमिका में नजर आएंगी|
यह फिल्म तमिल फ...
गदर गर्ल अमीषा पटेल इस फिल्म में नकारात्मक भूमिका निभाई हैं।
गदर गर्ल अमीषा ...
नील इस फिल्म में अपनी को-स्टार्स की तारीफ करते भी नहीं थक रहे हैं।
नील इस फिल्म मे...
अमीषा के रोल के बारे में नील का कहना है कि इस फिल्म में उनका किरदार बेहद चुनौतीपूर्ण है और वे इस ग्रे शेड रोल में खूब जंची हैं।
अमीषा के रोल के...
नील ने फिल्म निर्देशक के काम की भी तारीफ की और कहा कि निर्देशक सुषी गणेशन के साथ काम करने का अनुभव बेहद ही अच्छा रहा।
नील ने फिल्म नि...
अमीषा फिल्म में मुंबई के एक अमीर आदमी की पत्नी का रोल कर रही हैं, जिसका एक टपोरी लड़के से एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर हो जाता है।
अमीषा फिल्म में...
इस फिल्म में अमीषा पहली बार नकारात्मक चरित्र निभा रही हैं।
इस फिल्म में अम...
इस फिल्म में पूजा गुप्ता भी महत्वपूर्ण भूमिका में हैं। इससे पहले पूजा गुप्ता फिल्म गो गोवा गॉन में काम कर चुकी हैं।
इस फिल्म में पू...
टपोरी का रोल नील नितिन मुकेश ने निभाया है।
टपोरी का रोल नी...
वर्ष 2007 में प्रदर्शित हुई फिल्म 'जॉनी गद्दार' से नील को प्रसिद्धि मिली थी।
वर्ष 2007 में प...
उसके बाद से नील नितिन मुकेश मे न्यूयार्क, लफंगे-परिंदे, तेरा क्या होगा जॉनी और सात खून माफ जैसी फिल्मों में अभिनय किया।
उसके बाद से नील...
नील अपनी इस फिल्म में अपनी आवाज का जादू बिखेरते नजर आएंगे।
नील अपनी इस फिल...
नील ने इससे पहले 'आ देखें जरा' और मधुर भंडारकर की 'जेल' में पार्श्व गायन किया है।
नील ने इससे पहल...
सुसी गणेश के निर्देशन में बनने वाली फिल्म ‘शार्टकट रोमियो’ 21 जून को प्रदर्शित होगी।
सुसी गणेश के नि...

 

Display Num 
 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?