मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
सारदा घोटाले में चिदंबरम की पत्नी नलिनी से भी पूछताछ PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Monday, 22 September 2014 09:44



 जनसत्ता ब्यूरो

नई दिल्ली। पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की पत्नी नलिनी चिदंबरमसे सीबीआइ ने करोड़ों रुपए के कथित सारदा चिटफंड घोटाले के सिलसिले में पूछताछ की है। सरकारी सूत्रों ने यहां बताया कि सुप्रीम कोर्ट की वकील नलिनी से सीबीआइ ने शनिवार को चेन्नई में पूछताछ की। सारदा समूह की ओर से नलिनी को कानूनी सलाह के लिए दिए गए शुल्क के सिलसिले में पूछताछ की गई। सारदा समूह के अध्यक्ष सुदीप्त सेन ने कांग्रेस नेता मतंग सिंह से अलग रह रहीं उनकी पत्नी मनोरंजना सिंह के अनुरोध पर वकील के तौर पर नलिनी की सेवाएं लेने का उल्लेख किया था। सेन फिलहाल जेल में बंद हैं।

सेन ने दावा किया था कि सारदा समूह ने वकील नलिनी को कानूनी सलाह के शुल्क के तौर पर एक करोड़ रुपए का भुगतान किया था। सेन ने पिछले साल सीबीआइ को पत्र लिखा था। नलिनी ने मनोरंजना का पक्ष रखा था। इसलिए सेन के साथ मुलाकात


में उनको समूह ने पूर्वोत्तर में एक टीवी चैनल के अधिग्रहण की योजना के सिलसिले में पेशेवर सलाह देने का प्रस्ताव दिया था।

माना जाता है कि वकील ने टीवी चैनल खरीदने के लिए समूह के किए गए 42 करोड़ रुपए के निवेश के सिलसिले में अपने मुवक्किल को सलाह दी थी। इस बारे में नलिनी की प्रतिक्रिया लेने का प्रयास किया गया लेकिन उन्होंने फोन कॉल और एसएमएस का कोई जवाब नहीं दिया। लेकिन नलिनी की टीम ने इस बात से इनकार किया है कि सीबीआइ ने उनसे पूछताछ की। उन्होंने दावा किया कि सीबीआइ ने केवल टीवी चैनल को खरीदने की योजना के सिलसिले में उनकी तैयार 70 पन्नों की रिपोर्ट हासिल की थी। नलिनी के करीबी सूत्रों ने बताया कि एक साल की कानूनी सलाह के लिए करीब एक करोड़ रुपए के शुल्क का भुगतान किया गया।

 यह पारदर्शी और बहुत मामूली है।

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?