मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
भारतीय मुस्लिम भारत के लिए जिएंगे और भारत के लिए मरेंगे: नरेंद्र मोदी PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 19 September 2014 14:43



नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि भारतीय मुस्लिम भारत के लिए जिएंगे और भारत के लिए मरेंगे तथा वे अल कायदा जैसे आतंकी संगठन के इशारे पर नहीं नाचेंगे। मोदी ने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि वे (अल कायदा) हमारे देश के मुसलमानों के साथ अन्याय कर रहे हैं। अगर कोई सोचता है कि भारत के मुसलमान उनके इशारे पर नाचेंगे, तो वे भ्रम में हैं।’’

    सीएनएन को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा, ‘‘भारतीय मुस्लिम भारत के लिए जिएंगे, वे भारत के लिए मरेंगे - वे भारत के लिए कुछ बुरा नहीं चाहेंगे।’’

    उनसे अल कायदा प्रमुख की ओर से जारी उस वीडियो के बारे में पूछा गया था जिसमें भारत और दक्षिण एशिया में अल कायदा का संगठन खड़ा करने की अपील करते हुए कहा गया था कि गुजरात और कश्मीर में ‘‘दमन’’ का सामना कर रहे मुसलमानों को वे मुक्ति दिलाना चाहते हैं।

    प्रधानमंत्री से सीएनएन ने इस उल्लेखनीय तथ्य के बारे में भी सवाल किया कि भारत


में 17 करोड़ मुसलमानों की विशाल आबादी के बावजूद लगता है कि उनमें से कोई भी नहीं या नाम मात्र के अल कायदा के सदस्य हैं जबकि अफगानिस्तान और पाकिस्तान के मुसलमानों पर उसका अच्छा असर है। इस तथ्य के मद्देनजर उनसे सवाल किया गया कि क्या वजह है कि भारत के मुसलमान अल कायदा से प्रभावित नहीं हुए।

    इसके जवाब में मोदी ने कहा, पहली बात तो यह है कि इसका वह कोई मनोवैज्ञानिक और धार्मिक विशलेषण करने के विशेषज्ञ नहीं हैं, ‘‘लेकिन सवाल यह है कि क्या विश्व में मानवता की रक्षा नहीं की जानी चाहिए। क्या मानवता में विश्वास रखने वालों को एक नहीं होना चाहिए। यह मानवता के विरूद्ध संकट है, न कि एक देश या एक नस्ल के खिलाफ संकट है। अत: यह और कुछ नहीं बल्कि मानवता और अमानुषिकता के बीच लड़ाई है।’’

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?