मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
चेन्नई सुपरकिंग्स का सामना आज कोलकाता नाइट राइडर्स से PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 17 September 2014 11:10


हैदराबाद। कई अहम खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी से कमजोर हुई आइपीएल चैंपियन कोलकाता नाइट राइडर्स को आज यहां चैंपियंस लीग टी20 के ग्रुप ए के पहले मैच में चेन्नई सुपरकिंग्स के रू प में कड़ी चुनौती का सामना करना होगा।


आइपीएल टी20 प्रतियोगिता में सफलता के साथ आत्मविश्वास से भरी  कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम चैंपियंस लीग में अपना दम दिखाने को तैयार थी लेकिन टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले अहम खिलाड़ियों क्रिस लिन और मोर्ने मोर्कल की चोट और बांग्लादेश क्रिकेट संघ से साकिब अल हसन के एनओसी लेने के नाकाम रहने के कारण टीम को नुकसान हुआ है।

गौतम गंभीर की अगुआई वाली टीम चैंपियंस लीग में अब तक उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन करने में नाकाम रही है। टीम ने 20011 और 2012 में ग्रुप चरण में जगह बनाई थी लेकिन इससे आगे बढ़ने में नाकाम रही।

गंभीर ने कहा, ‘चैंपियंस लीग में हमारा रेकार्ड बहुत अच्छा नहीं है। उम्मीद करते हैं कि हम इसमें सुधार कर पाएंगे। चैंपियंस लीग ऐसा टूर्नामेंट है जिसे हमने जीता नहीं है और हमारे पास ऐसी टीम


है जो किसी भी टूर्नामेंट को जीत सकती है। इसलिए इस बार हम टूर्नामेंट जीतने के लिए प्रेरित हैं।’

गंभीर के अलावा कोलकाता नाइट राइडर्स के पास जैक कैलिस, रोबिन उथप्पा और यूसुफ पठान जैसे उम्दा खिलाड़ी हंै लेकिन टीम को साकिब और मोर्कल की कमी खलेगी। कोलकाता की टीम ने टूर्नामेंट के लिए कड़ी मेहनत की है और उसने सोमवार को यहां हैदराबाद एकादश के खिलाफ राजीव गांधी क्रिकेट स्टेडियम में अभ्यास मैच भी खेला था। कैलिस ने अभ्यास मैच में 43 गेंदों में तीन चौकों और चार छक्कों की मदद से 58 रन बनाए।

 दूसरी तरफ 2010 की चैंपियन चेन्नई की टीम महेंद्र सिंह धोनी की अगुआई में एक बार फिर कड़ी चुनौती पेश करने को तैयार है। टीम में अनुभवी ड्वेन ब्रावो की वापसी हुई है जिससे उसे फायदा होगा। चेन्नई की टीम में कई अंतरराष्ट्रीय स्टार खिलाड़ी मौजूद हैं जिनमें सुरेश रैना, रविचंद्रन अश्विन, रविंदर जडेजा और फाफ डु प्लेसिस अहम हैं जो टीम को मजबूत इकाई बनाते हैं।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?