मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
हरियाण, महाराष्ट्र में 15 अक्तूबर को विधानसभा चुनाव, मतगणना 19 अक्तूबर को होगी PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 12 September 2014 18:55


  नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने आज हरियाणा और महाराष्ट्र में 15 अक्तूबर को विधानसभा चुनाव कराने की घोषाण की । दोनों राज्यों में मतगणना 19 अक्तूबर को करायी जायेगी । 


     मुख्य चुनाव आयुक्त वी एस संपत ने चुनाव कार्यक्रम की घोषणा करते हुए यहां संवाददाताओं से कहा कि इन दोनों राज्यों में विधानसभा चुनाव के अलावा विभिन्न राज्यों की पांच विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव भी कराए जाएंगे । उन्होंने बताया कि विधानसभा चुनावों के अलावा महाराष्ट्र की बीड और ओडिशा की कंधमाल लोकसभा सीट के लिए 15 अक्तूबर को उपचुनाव भी होंगे । सभी जगहों पर मतगणना 19 अक्तूबर को होगी ।  

     संपत ने कहा कि चुनाव कार्यक्रमों की घोषणा के साथ ही आदर्श चुनाव आचार संहिता लागू हो गयी ।   

     288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल आठ नवम्बर को समाप्त हो रहा है, जबकि 90 सदस्यीय हरियाणा विधानसभा का कार्यकाल 27 अक्तूबर को खत्म होगा । 

     मुख्य चुनाव आयुक्त ने बताया कि चुनावों के लिए अधिसूचना 20 सितम्बर को जारी की जायेगी । नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 27 सितम्बर होगी । 29 सितम्बर को नामांकन पत्रों की जांच होगी और एक अक्तूबर तक नाम वापस लिये जा सकेंगे । सिर्फ कंधमाल लोकसभा सीट के उपचुनाव के लिए अधिसूचना 19 सितम्बर को जारी की जायेगी और नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 26 सितम्बर रहेगी । 

     जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव के बारे में पूछे जाने पर मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि हम राज्य की स्थिति पर नजदीकी नजर बनाए हुए हैं और चीजें स्पष्ट होने के बाद फैसला किया जाएगा ।

     उन्होंने कहा कि


हरियाणा और महाराष्ट्र में मौजूदा विधानसभा का कार्यकाल क्रमश: 27 अक्तूबर और 8 नवम्बर को समाप्त होगा, जम्मू कश्मीर और झारखंड विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होने में अभी कुछ समय है ।

     इन दो राज्यों में विधानसभा चुनावों के साथ ही उत्तर प्रदेश में कैराना, गुजरात में राजकोट पश्चिम, अरूणाचल प्रदेश में कनुबारी, मणिुपर में हियांगलाम और नगालैंड में उत्तरी अंगामी विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव भी होंगे ।

     लोकसभा की जिन दो सीटों के लिए उपचुनाव कराये जा रहे हैं उनमें महाराष्ट्र की बीड सीट भाजपा के गोपी नाथ मुंडे के निधन के कारण रिक्त हुई है, जबकि ओडिशा की कंधमाल सीट बीजद के हेमेन्द्र चन्द्र सिंह के निधन के कारण खाली हुई है । 

     संपत ने बताया कि महाराष्ट्र विधानसभा की 288 सीटों में 29 सीटें अनुसूचित जाति और 25 सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं, जबकि 90 सदस्यीय हरियाणा विधानसभा में 17 सीटें अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित हैं ।

     उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र में कुल 82591826 मतदाताओं के लिए 90403 मतदान केन्द्र हैं जबकि हरियाणा में मतदाताओं की संख्या 16158117 है । यहां कुल 16244 मतदान केन्द्र हैं ।

     दिल्ली में विधानसभा चुनाव के बारे में पूछे जाने पर संपत ने कहा कि दिल्ली में जब कभी चुनाव होगा तो उसके लिए आयोग तैयार होगा, लेकिन सरकार के गठन का मामला हमारे अधिकार क्षेत्र में नहीं है । 

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?