मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
ISIS लड़ाकों की संख्या अनुमान से तीन गुना अधिक: सीआईए PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 12 September 2014 12:02


वॉशिंगटन। सीआईए के एक नवीनतम आकलन में कहा गया है कि इराक और सीरिया के बड़े हिस्से पर कब्जा कर चुके आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट के लड़ाकों की संख्या 31,500 से ज्यादा है और यह आंकड़ा पूर्व के अनुमान से करीब तीन गुना अधिक है।


      सीआईए के एक प्रवक्ता ने बताया ‘‘सीआईए का आकलन है कि इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक एंड द लेवांत (आईएसआईएल) के लड़ाकों की संख्या इराक और सीरिया में 20,000 से लेकर 31,500 के बीच हो सकती है। यह आकलन मई से अगस्त के दौरान की सभी खुफिया रिपोर्टों की समीक्षा पर आधारित है। ’’

      उन्होंने कहा कि आईएसआईएल के इन लड़ाकों की संख्या हमारे पूर्व के उस अनुमान से कहीं ज्यादा है जिसमें यह संख्या करीब 10,000 होने की आशंका थी।

      प्रवक्ता ने कहा कि यह नया आंकड़ा आतंकी संगठन के सदस्यों की संख्या में वृद्धि बताता है क्योंकि गुट ने लड़ाई में सफलता, खिलाफत की घोषणा, अपनी अधिक सक्रियता और अतिरिक्त खुफिया गतिविधियों के बाद जून से बड़ी संख्या में भर्ती की है।

      सीआईए के इस आकलन से पहले, कल राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अमेरिका नीत सैन्य अभियान में बड़े विस्तार का एलान किया है। इसमें सीरिया में अमेरिकी हमले, इराक में और 475 सैन्य पर्यवेक्षकों की


तैनाती आदि शामिल है ताकि इस्लामिक स्टेट की ताकत को कमजोर कर उसे पूरी तरह नष्ट किया जा सके।

      इस्लामिक स्टेट को इस्लामिक स्टेट आॅफ इराक एंड सीरिया या आईएसआईएस या आईएसआईएल भी कहा जाता है।

आईएसआईएस अलकायदा से टूट कर बना एक समूह है और इसने इराक तथा सीरिया के बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया है। इससे क्षेत्र में खतरा पैदा हो गया है।  अलकायदा ने ग्रुप से अपने आपको दूर रखा है।

     अमेरिकी विदेश मंत्री ने कल कहा कि अमेरिका का आईएसआईएस के साथ युद्ध की स्थिति नहीं है।

     कैरी ने सीएनएन से कहा, ‘‘हम जो कर रहे हैं वो बेहद महत्वपूर्ण आतंक निरोधी अभियान में शामिल होना है।’’

     उन्होंने कहा यह कुछ समय के लिए चलेगा। अगर कोई इसे आईएसआईएल के साथ युद्ध के तौर पर देख रहा है तो वो ऐसा कर सकता है लेकिन तथ्य है कि यह एक महत्वपूर्ण आतंकनिरोधी अभियान है जिसका कई अलग हिस्सा होगा।

     पेंटागन ने कहा है कि अमेरिकी रक्षा मंत्री चक हेगल ने फ्रांस के अपने समकक्ष जीन वाइवेस ली ड्रीयन से इस्लामिक स्टेट का मुकाबला करने के वास्ते रणनीति के लिए समझौते पर चर्चा की है।

(भाषा) 

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?