मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
युकी भांबरी करेंगे भारतीय डेविस कप अभियान की शुरूआत PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Thursday, 11 September 2014 15:47


बेंगलूर। युकी भांबरी सर्बिया के खिलाफ भारतीय डेविस कप अभियान की शुरूआत करेंगे। वह कल से यहां शुरू होने वाले विश्व ग्रुप प्लेआफ मुकाबले में पहले एकल मैच में सर्बिया के नंबद दो खिलाड़ी डुसान लाजोविच से भिड़ेंगे। 


दूसरा एकल मैच भारत के सोमदेव देववर्मन और सर्बिया के फिलिप क्राजिनोविच के बीच खेला जाएगा। पहला मैच दोपहर बाद तीन बजे से जबकि दूसरा मैच छह बजकर 30 मिनट पर शुरू होगा। 

मुकाबले के दूसरे दिन भारतीय टेनिस स्टार लिएंडर पेस स्थानीय खिलाड़ी रोहन बोपन्ना के साथ जोड़ी बनाएंगे। उनका मुकाबला नेनाद जिमोनजिच और इलिजा बोजोलजाक की सर्बियाई जोड़ी से होगा। 

आखिरी दिन चौथे मुकाबले में सोमदेव का सामना लाजोविच से जबकि भांबरी दूसरे उलट एकल में क्राजिनोविच से भिड़ेंगे। पहला उलट एकल चार बजे से जबकि दूसरा मैच छह बजकर 30 मिनट से शुरू होगा। 

युगल और उलट एकल के लिये नामांकन शुरूआत के समय से एक घंटा पहले बदला जा सकता है। 

भारत के गैर खिलाड़ी कप्तान आनंद अमृतराज ने कहा कि युकी भारत के लिये शुरूआत करेंगे। अमृतराज से पूछा गया कि क्या भारत क्राजिनोविच को निशाना बनाएगा, उन्होंने कहा कि वे किसी को निशाना नहीं बना रहे हैं क्योंकि दोनों ही समान रूप से अच्छे खिलाड़ी हैं। 

अमृतराज ने कहा, ‘‘मैंने उन्हें अभ्यास करते हुए देखा है। वे दोनों समान रूप से अच्छे खिलाड़ी है। उम्मीद है कि हम अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगे। हम किसी को निशाना नहीं बना रहे हैं। यह पूरी


तरह से उस दिन की स्थिति पर निर्भर करता है। ’’

भारतीय कप्तान से पूछा गया कि क्या वह शाम को मैच खेलने से खुश हैं, उन्होंने कहा, ‘‘व्यक्तिगत तौर पर मैं सुबह मैच खेलना पसंद करूंगा और डेविस कप में आम तौर पर मैच सुबह खेले जाते हैं। हम हालांकि बेंगलूर के आयोजकों की इच्छा का सम्मान करते हुए शाम को खेलने के लिये तैयार हो गये।’’

सोमदेव ने कहा कि दोनों टीमें बराबर के टक्कर की हैं। उन्होंने क्राजिनोविच को बहुत अच्छा खिलाड़ी करार दिया। 

उन्होंने कहा, ‘‘दोनों टीमों के पास अवसर हैं क्योंकि दोनों बराबर की टक्कर की हैं। मुझे लगता है कि क्रोजिनोविच बहुत अच्छा खिलाड़ी है और अभी फार्म में है। मैं भी अच्छा खेल रहा हूं। मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने जा रहा हूं। ’’

सोमदेव ने कहा कि शंघाई में खेलने से उन्हें मैच फिट रहने में मदद मिली। उन्होंने कहा, ‘‘शंघाई में खेलने का फैसला सही था। मैं स्वस्थ और फिट महसूस कर रहा हूं और मेरा पूरा ध्यान मैच पर है। ’’

एक अन्य सवाल के जवाब में सोमदेव ने कहा कि वह इससे पहले 2009 और 2010 में क्राजिनोविच के खिलाफ खेल चुके हैं। उन्होंने कहा, ‘‘पहला मैच मैंने तीन सेट में जीता था जबकि दूसरा मैच मैं हार गया था। ’’

(भाषा) 


आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?