मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
नजीब जंग से मिले आप नेता, सौंपी सीडी PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Thursday, 11 September 2014 08:32



 जनसत्ता संवाददाता

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) के नेताओं ने बुधवार को उपराज्यपाल नजीब जंग से मुलाकात की और दिल्ली में सरकार बनाने के वास्ते भाजपा को आमंत्रित करने को लेकर राष्ट्रपति की अनुमति के लिए लिखा गया पत्र वापस लेने के लिए कहा। इसी के साथ आप ने दिल्ली विधान सभा के चुनाव तुरंत करवाने की अपनी मुहिम तेज कर दी।

मुलाकात के दौरान पार्टी प्रमुख अरविंद केजरीवाल के साथ रहे आप नेता मनीष सिसौदिया ने कहा, ‘हमने अपने स्टिंग ऑपरेशन की सीडी उपराज्यपाल को सुपुर्द कर दी है जिसमें दिखता है कि भाजपा चार करोड़ रुपए में हमारे विधायक को खरीदने की कोशिश कर रही है। हमने उपराज्यपाल से वीडियो देखने का अनुरोध किया है। हमने उनसे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को 4 सितंबर को भेजे पत्र पर फिर से गौर करने को भी कहा है जिसमें उन्होंने सरकार बनाने के लिए भाजपा को आमंत्रित करने की अनुमति मांगी है।’

आप नेता ने दिल्ली में सरकार बनाने के लिए भाजपा पर खरीद फरोख्त में संलिप्त होने का आरोप लगाया। सिसौदिया ने कहा कि खरीद फरोख्त के जरिए अगर भाजपा सरकार बना भी लेती है तो दिल्ली की समस्याएं नहीं सुलझेगी। इस तरह की सरकार दिल्ली की जनता


पर बोझ होगी और उनके साथ छल होगा। बैठक में आप ने उपराज्यपाल से दिल्ली विधानसभा भंग करने के लिए कहा। सिसौदिया ने कहा कि अगर जरूरत हुई तो वे राष्ट्रपति को सीडी सौंपेंगे। 

आप शुरू से ही तुरंत चुनाव की मांग कर रही है। 14 फरवरी को इस्तीफा देने के साथ ही आप सरकार ने उपराज्यपाल से विधानसभा भंग करके चुनाव कराने की मांग की थी। उपराज्यपाल ने उनकी मांग को दरकिनार करते हुए विधान सभा निलंबित रखते हुए राष्ट्रपति शासन की सिफारिश कर दी। दिल्ली में 17 फरवरी से राष्ट्रपति शासन है। उप राज्यपाल के विधानसभा निलंबित रखने के फैसले के खिलाफ आप ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दी। जिस पर सुनवाई करते हुए मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने सरकार बनाने या विधानसभा भंग करने पर फैसले के लिए 10 अक्तूबर तक का समय दिया है। केजरीवाल ने खरीद फरोख्त से दिल्ली में सरकार बनाने की कोशिश के सबूत भी अदालत में दिए लेकिन अभी अदालत ने उन्हें सबूत नहीं माना है। लेकिन आप नेताओं ने  इसे आधार बनाकर भाजपा और उपराज्यपाल पर हमले शुरू कर दिए हैं।



आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?