मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
वडोदरा में बाढ़ के हालात, सेना से मांगी गई मदद PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Thursday, 11 September 2014 08:14


वडोदरा। गुजरात में विश्वामित्री नदी के उफान पर आने के बाद और वडोदरा में दो लाख से अधिक लोगों के सामने बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न होने के पश्चात नगर निकाय ने जलमग्न रिहायशी क्षेत्रों में फंसे लोगों को खाद्य पैकेट प्रदान करने के लिए सेना की मदद मांगी है।


वडोदरा के निगम आयुक्त मनीष भारद्वाज ने कहा, ‘हमने प्रभावित क्षेत्रों में हेलिकॉप्टरों से खाद्य पैकेट व पेयजल की बोतलें गिराने के लिए मदद की गुहार लगाते हुए सेना से संपर्क किया है क्योंकि शहर के कई क्षेत्रों में पानी भर जाने के कारण उन तक राहत सामग्री की आपूर्ति कठिन है।’

वडोदरा नगर निगम (वीएमसी) की स्थाई समिति के अध्यक्ष हितेंद्र पटेल ने बताया कि शहर के पश्चिमी हिस्से में ज्यादातर इलाकों के जलमग्न हो जाने के कारण दो लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं। उन्होंने कहा, ‘बुरी तरह से प्रभावित इलाके पानीगेट, कारलीबाग, मांडवी, सयाजीगंज और मुंझमाहुदा हैं जहां आवासीय क्षेत्रों में पानी घुस गया है।’

प्रशासन ने इन इलाकों से 1,700 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है। वडोदरा में नदी के पास स्थित सर सयाजीराव गायकवाड़ अस्पताल और चिड़ियाघर में भी पानी घुस गया है जिसके कारण अधिकारियों को चिड़ियाघर के कुछ


जानवरों को वहां से अन्यत्र ले जाना पड़ रहा है।

विश्वामित्री नदी पर बने सभी तीनों पुल बंद कर दिए गए हैं। प्रशासन ने सभी स्कूलों और कॉलेजों को भी बंद करने का निर्देश दिया है। विश्वामित्री नदी में जल का स्तर फिलहाल 33.5 फुट है जो खतरे के निशान 26 फुट से अधिक है। नदी के जलग्रहण क्षेत्रों और अजवा बांध पर मंगलवार को लगातार बारिश हुई इसके कारण नदी में पानी छोड़ा गया था।

भारद्वाज ने कहा, ‘वीएमसी ने सुबह साढ़े पांच बजे से शहर के बाहरी इलाके में स्थित अजवा बांध से पानी छोड़ना बंद कर दिया है। यह तब किया गया था जब विश्वामित्री नदी शहर के मध्य भाग में खतरे के निशान 26 फुट से 7.6 फुट ऊपर बह रही थी।’

उन्होंने कहा कि बांध के 128 वर्ष के इतिहास में यह पहला मौका है जब पानी का स्तर 215 फुट को पार कर गया जबकि इसकी क्षमता 214 फुट है। नगर प्रशासन ने जलस्तर के 215 फुट तक पहुंच जाने के बाद बांध के 62 गेट खोल दिए थे। नगर के अग्निशमन प्रशासन ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से लोगों को निकालने के लिए नौकाएं तैनात की हैं।

(भाषा)


आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?