मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
मोदी को इस्लाम के दुश्मन के तौर पर चित्रित करना चाहता है अल कायदा PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 05 September 2014 13:12


वाशिंगटन। अमेरिका के जाने माने आतंकवाद निरोधी विशेषज्ञ ने आज कहा कि अल कायदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस्लाम के दुश्मन के तौर पर चित्रित करना चाहता है और भारत को उसकी धमकी को ‘बहुत संजीदगी’ से लेना चाहिए। 


      बहरहाल, अमेरिका आतंकी संगठन की क्षमताओं को ज्यादा तवज्जो नहीं देने की कोशिश की। 

      अमेरिका के शीर्ष आतंकवाद निरोधी विशेषज्ञ समझे जाने वाले सीआईए के पूर्व विशेषज्ञ ब्रूस रिडेल ने पीटीआई से कहा, ‘‘ इस साल (अल कायदा नेता ऐमन अल) जवाहिरी का यह पहला वीडियो है और इसे बहुत गंभीरता से लेना चाहिए। अल कायदा प्रधानमंत्री मोदी को इस्लाम के दुश्मन के तौर पर चित्रित करना चाहता है।’’

    रिडेल ने कहा, ‘‘पाकिस्तान में इसका आधार और लश्कर-ए तैयाबा के साथ इसका करीबी गठजोड़ होने की वजह से अल कायदा भारत के लिए खतरा है।’’ 

    उन्होंने यह बात तब कही


जब उनसे जवाहिरी के ताजे वीडियो के बारे में पूछा गया जिसमें उसने भारत के कश्मीर, गुजरात और असम में जिहाद शुरू करने के लिए तथा खिलाफत स्थापित करने का लक्ष्य हासिल करने के लिए और अफगानास्तिान से म्यांमा तक शरियत लागू के लिए भारतीय उपमहाद्वीप में एक नई शाखा खोलने की घोषणा की है। 

    यूट्यूब सहित विभिन्न सोशल मीडिया वेब साइटों पर डाली गई वीडियो के मुताबिक जवाहिरी ने अल कायदा की नई शाखा खोलने की घोषणा की है जिसका नाम ‘भारतीय उपमहाद्वीप में अल कायदात अल जिहाद’ जो ‘‘पूरे भारतीय उपमहाद्वीप में जिहाद का परचम बुलंद करेगा, इस्लामी शासन वापस लाएगा और शरियत को लागू करेगा।’’

(भाषा)


आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?