मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
विश्व कप के लिए पूरी तरह तैयार है भारत: सचिन तेंदुलकर PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 05 September 2014 11:37


मुंबई। दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने अगले साल आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में होने वाले 50 ओवरों के विश्व कप में मौजूदा चैंपियन भारत से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करते हुए कहा कि दुनिया की नंबर एक वनडे टीम इस कड़ी चुनौती के लिए पूरी तरह तैयार है। आस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री टोनी एबोट की उपस्थिति में आस्ट्रेलियाई वाणिज्य दूतावास द्वारा क्रिकेट क्लब आफ इंडिया में आयोजित कार्यक्रम में तेंदुलकर ने कहा- विश्व कप अगले साल आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में खेला जाएगा। मेरी 1991-92 दौरे से कुछ अच्छी यादें जुड़ी हैं जब हम आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में खेले थे। मैं सभी को याद दिलाना चाहता हूं कि मौजूदा चैंपियन अपना खिताब बचाने के लिए तैयार है। इस अवसर पर एबोट को क्लब की आजीवन सदस्यता दी गई। 


पिछले साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने वाले तेंदुलकर ने भारत के इंग्लैंड में मौजूदा प्रदर्शन के संदर्भ में यह बात कही। भारत ने टैस्ट शृंखला 1-3 से गंवाने के बाद एकदिवसीय शृंखला में जबर्दस्त वापसी की और अभी वह 3-0 की अजेय बढ़त ले चुका है। भारत अब वेस्ट इंडीज की मेजबानी करेगा और फिर दिसंबर जनवरी में आस्ट्रेलिया दौरे पर जाएगा। विश्व कप 14 फरवरी से 29 मार्च तक खेला जाएगा।  तेंदुलकर ने इसके साथ ही आस्ट्रेलिया की अपने शुरुआती दौरों के दौरान महान क्रिकेटर डोनाल्ड ब्रैडमैन से उनके 90वें जन्मदिन पर मुलाकात को याद किया। उन्होंने कहा कि शायद वह 1980 या 82 की बात है जब मेरे पड़ोसी ने मुझे सर डान का पत्र दिखाया था। मेरे पड़ोसी ने कहा था कि उन्होंने उन्हें पत्र लिखा था जिसका सर डान ने वास्तव में जवाब दिया था। मैंने उनके आटोग्राफ को


देखा था। तेंदुलकर ने कहा कि उस समय सर डान के बारे में जानने के लिए मैं बहुत युवा था। मुझे 19-20 साल पहले उनके बारे में कुछ जानने का मौका तब मिला जब मैं उनके 90वें जन्मदिन पर उन्हें बधाई देने के लिए उनके घर गया था। वह अपनी तरह का बेजोड़ अनुभव था। उन्होंने कहा कि मैं वार्नी (आस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर शेन वार्न) के साथ वहां गया था और हम दोनों नहीं जानते थे कि क्या कहना है और क्या सवाल करने हैं। वह अनुभव वास्तव में खास था। 

तेंदुलकर ने कहा कि हमने उनसे पूछा कि आज के क्रिकेट में उनका औसत क्या होता क्योंकि उन्होंने स्वयं कहा था कि अब क्रिकेट में खेल का स्तर बेहतर हो गया है। उन्होंने कहा था कि शायद उनका औसत 70 होता। हमारी नैसर्गिक प्रतिक्रिया थी 70 क्यों 99 (99.94) क्यों नहीं। उन्होंने कहा कि बेटे 90 साल की उम्र के इंसान के लिए यह बुरा औसत नहीं है। तेंदुलकर ने कहा कि ब्रैडमैन ने जब कहा कि मेरी बल्लेबाजी शैली उनकी शैली से मिलती है तो वह मेरे लिए सबसे बड़ी तारीफ थी। तेंदुलकर ने इसके साथ ही कहा कि ब्रैडमैन ने जो सर्वकालिक टैस्ट एकादश चुनी थी उसका फ्रेम किया गया फोटोग्राफ उनके घर में है और वे इसे हमेशा ‘अमूल्य निधि’ की तरह रखते हैं क्योंकि इस महान खिलाड़ी इसमें उन्हें भी शामिल किया था। उन्होंने कहा कि मेरी जिंदगी का वह खास पल था। मेरे पास उस एकादश का फ्रेम किया गया फोटोग्राफ है जो मेरे लिए अमूल्य निधि है। 

(भाषा)


आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?