मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
भारत खाद्य सब्सिडी मुद्दे पर कई देशों के साथ बातचीत कर रहा है डब्ल्यूटीओ PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 03 September 2014 16:20


नई दिल्ली। भारत विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) में खाद्य सुरक्षा मुद्दे को लेकर अपने रूख पर समर्थन जुटाने के मकसद से कई देशों के साथ बातचीत कर रहा है। इन प्रयासों का उद्देश्य मुक्त व्यापार के लिये बातचीत को आगे बढ़ाना है।

    एक माह के अवकाश के बाद डब्ल्यूटीओ ने एक सितंबर से जिनेवा में काम शुरू किया। 

    वाणिज्य सचिव राजीव खेर ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम वहां से शुरू करेंगे, जहां हमने छोड़ा था। चीजें बिल्कुल साफ कर दी गयी हैं। हम बातचीत करना चाहते हैं लेकिन उस लक्ष्य को किसी भी तरीके से प्राप्त भी करना चाहते हैं।’’

    उन्होंने कहा कि यह डब्ल्यूटीओ के महानिदेशक रोबर्टो अजेवेदो पर है कि वह चाहे प्रतिनिधिमंडल के प्रमुखों की या छोटे-छोटे समूह की बैठक बुलायें।

    यह पूछे जाने पर कि क्या भारत


अपने कड़े रूख पर समर्थन जुटाने के लिये डब्ल्यूटीओ के सदस्य देशों के साथ बातचीत कर रहा है, खेर ने कहा, ‘‘हम कुछ देशों के साथ बातचीत कर रहे हैं।’’ खाद्य सुरक्षा मामले में भारत के कड़े रूख के कारण जिनेवा वार्ता असफल रही।

    जिनेवा में 31 जुलई को 160 सदस्यीय डब्ल्यूटीओ वैश्विक सीमा शुल्क समझौते यानी व्यापार सरलीकरण समझौते (टीएफए) पर सहमति बनाने में नाकाम रहा।

    भारत ने डब्ल्यूटीओ के टीएफए को तबतक मंजूरी नहीं देने का निर्णय किया जबतक खाद्य सुरक्षा कार्यक्रम के मकसद से सरकारी खाद्य भंडार से जुड़े मुद्दों का 

पक्का समाधान नहीं निकाला जाता। । 

(भाषा)     

   

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?