मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
एफडीआई सीमा बढ़ने के बाद रिलायंस लाइफ में हिस्सेदारी बढ़ाएगी निप्पन PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 03 September 2014 14:07


तोक्यो। जापान की दिग्गज कंपनी निप्पन लाइफ भारत की अग्रणी निजी बीमा कंपनी रिलायंस लाइफ में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए उसके साथ बातचीत कर रही है। सरकार बीमा क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश :एफडीआई: सीमा बढ़ाने जा रही है। 

    निक्केई के वाणिज्य अखबार ने रिलायंस समूह के प्रबंध निदेशक अमिताभ झुनझुनवाला के हवाले से लिखा है, ‘‘ दोनों पक्ष :निप्पन व रिलायंस लाइफ: बातचीत कर रहे हैं और जैसे ही विधेयक भारतीय संसद में पारित हो जाता है, सौदा हो जाएगा।’’

    वर्तमान में रिलायंस लाइफ इंश्योरेंस कंपनी में निप्पन लाइफ की 26 प्रतिशत हिस्सेदारी है। कंपनी ने यह हिस्सेदारी


3,062 करोड़ रुपए में खरीदी थी। यह सौदा अक्तूबर, 2011 में पूरा हुआ था जिससे रिलायंस लाइफ का बाजार मूल्य 11,500 करोड़ रुपए बैठता है।

    भारत सरकार ने बीमा क्षेत्र में एफडीआई सीमा मौजूदा 26 प्रतिशत से बढ़ाकर 49 प्रतिशत करने का प्रस्ताव किया है। इस प्रस्ताव को इस साल जुलाई में ही मंत्रिमंडल की मंजूरी मिल चुकी है और सरकार ने कहा है कि उसे संसद में इसके पारित होने की उम्मीद है।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?