मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
नए खिलाड़ी नई ऊर्जा लेकर आए हैं: अजिंक्य रहाणे PDF Print E-mail
User Rating: / 1
PoorBest 
Monday, 01 September 2014 10:56


नाटिंघम। अजिंक्य रहाणे ने रविवार को कहा कि वनडे टीम से जुड़ने वाले नए खिलाड़ी नई ऊर्जा लेकर आए हैं और इससे इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा शृंखला में भारत टीम का भाग्य बदलने में मदद मिली। टैस्ट शृंखला में लचर प्रदर्शन के बाद भारत को 1-3 से शिकस्त का सामना करना पड़ा था लेकिन टीम इंडिया ने पांच मैचों की वनडे शृंखला में 2-0 की बढ़त बना रखी है जबकि पहला वनडे बारिश की भेंट चढ़ गया था।

रहाणे ने बीसीसीआइ की आधिकारिक वेबसाइट से कहा, ‘टीम से जुडेÞ नए लड़के नई ऊर्जा लेकर आए हैं। हमारी टीम साथ ही क्षेत्ररक्षण में भी काफी अच्छी है। हां, हमने टैस्ट मैचों में अच्छा प्रदर्शन नहीं किया लेकिन इससे हम खराब क्षेत्ररक्षण इकाई नहीं बनते। उन्होंने कहा कि टैस्ट शृंखला में जो हुआ उससे हमें पीड़ा पहुंची है लेकिन हमें पता है कि हमें आगे बढ़ना होगा। हमने इस दुख से निकलने और वनडे शृंखला पर ध्यान लगाने के लिए एक दूसरे की मदद की। जब हमने दूसरा वनडे जीता तो हम इस मैच के लिए पूरी तरह तैयार थे।’

रहाणे को तीसरे वनडे में घायल रोहित शर्मा की जगह पारी की शुरुआत करनी पड़ी और उन्होंने कहा कि वह अपनी नई भूमिका का लुत्फ उठा रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘मैं काफी रोमांचित था और मैंने दोबारा


पारी की शुरुआत करने का लुत्फ उठाया। मुझे पता है कि मैं अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था और अब हालात से अच्छी तरह वाकिफ हूं। मैं सकारात्मक मानसिकता के साथ मैदान पर उतरा था। मुझे पता था कि गेंद शुरू  में स्विंग करेगी लेकिन मैंने फैसला किया कि मैं धीमी बल्लेबाजी नहीं करूं गा। मेरी पहली प्राथमिकता रन बनाना है। मैं अपने शाट खेलने को लेकर प्रतिबद्ध था।’

दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने पारी की शुरुआत करते हुए तीसरे वनडे में 56 गेंदों में 45 रन बनाए। रहाणे की पारी की मदद से भारत ने शनिवार को यहां इंग्लैंड को छह विकेट से हराया लेकिन उन्होंने स्वीकार किया कि वह एक बार फिर अच्छी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहे। उन्होंने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मैं भी हैरान हूं कि मेरे साथ ऐसा क्यों हो रहा है और वो भी लगातार। मुझे लगता है कि मुझे अपनी पारी में इस चरण के दौरान सतर्क होकर खेलना होगा। लेकिन साथ ही मुझे सुनिश्चित करने की जरू रत है कि मैं पूरी तरह से रन बनाना बंद नहीं करूं  और रन बनाता रहूं।’

(भाषा)


आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?