मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
साइना और सिंधू विश्व बैडमिंटन के क्वार्टर फाइनल में PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 29 August 2014 11:59


कोपेनहेगेन। ओलंपिक कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल और युवा सनसनी पीवी सिंधू ने गुरुवार को यहां विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप के महिला सिंगल्स के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। साइना ने पहला गेम गंवाने के बाद शानदार वापसी करके जापान की सयाका तकाहाशी को 14-21, 21-18, 21-12 से हराकर अंतिम आठ में प्रवेश किया जहां उनका मुकाबला दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी चीन की ली झूरेई से होगा। 

सिंधू ने उलटफेर किया। इस 11वीं सीड भारतीय खिलाड़ी ने कोरिया की विश्व में पांचवें नंबर की खिलाड़ी यियोन जु बेई को एक घंटे 16 मिनट तक चले बेहद संघर्षपूर्ण मुकाबले में 19-21, 22-20, 25-23 से पराजित किया। विश्व में सातवें नंबर की साइना पहला गेम हार गयी लेकिन इसके बाद उन्होंने जबर्दस्त खेल दिखाया और एक घंटे पांच मिनट तक चले मैच में 13वीं सीड जापानी खिलाड़ी को हराने में सफल रही। 

पहले गेम में साइना पूरी तरह से लय में नहीं दिख रही थीं और किसी भी समय नहीं लग रहा था कि वे जीत की हकदार हैं। वे शुरू  मसे ही पिछड़ गर्इं और गेम में किसी भी समय ऐसा अवसर नहीं आया जबकि ऐसा लगा


कि साइना अपनी प्रतिद्वंद्वी के करीब पहुंच पाएंगी। 

विश्व में 14वें नंबर की जापानी ने सीधे 4-0 की बढ़त से शुरुआत की और पूरे मैच में साइना पीछे रही। दूसरे गेम में हालांकि साइना ने शुरू  से बेहतरीन खेल दिखाया। उन्होंने 7-3 की बढ़त हासिल की लेकिन तकाहाशी ने लगातार चार अंक बनाकर स्कोर 7-7 से बराबर कर दिया। एक समय जापानी खिलाड़ी 13-8 से बढ़त पर थीं लेकिन जब लग रहा था कि साइना मैच गंवा देंगी तब उन्होंने फिर से अपने अनुभव का अच्छा इस्तेमाल किया और पहले 15-16 से अंतर कम करके जल्द ही 17-17 से बराबरी कर ली। जब स्कोर 18-18 था तब साइना ने लगातार तीन अंक जीतकर मैच को निर्णायक गेम तक खींच दिया। तीसरे और आखिरी गेम में साइना को खास मेहनत नहीं करनी पड़ी। शुरू  में एक समय स्कोर 7-7 से बराबर था लेकिन इसके बाद केवल साइना की चली और उन्होंने आसानी से यह गेम अपने नाम करके मैच जीता। 

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?