मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
‘जब तक दुनिया, तब तक बलात्कार’ PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 29 August 2014 10:04


कोलकाता। तापस पाल के बाद तृणमूल कांग्रेस के एक अन्य नेता की टिप्पणी पर विवाद हो गया है जिसमें उन्होंने कहा कि जब तक दुनिया रहेगी, तब तक बलात्कार होंगे। इसकी विपक्ष और महिला अधिकारों के समर्थक समूहों ने कड़ी निंदा की है।


दक्षिण 24 परगना जिले में बुधवार को डायमंड हार्बर में बैठक में तृणमूल विधायक दीपक हलदर ने कहा, बलात्कार पहले भी होते थे, बलात्कार अब भी हो रहे हैं। जब तक दुनिया रहेगी, बलात्कार होंगे। हलदर ने बलात्कार को सामाजिक बीमारी करार दिया और कहा, हम बलात्कार का समर्थन नहीं करते। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के लिए इस समस्या का अकेले समाधान निकालना संभव नहीं है।

इससे पहले तृणमूल सांसद तापस पाल ने विपक्षी माकपा कार्यकर्ताओं को मारने की धमकी दी थी और कहा था कि अगर सत्तारूढ़ पार्टी के एक भी कार्यकर्ता पर हमला किया गया तो उनकी महिलाओं से बलात्कार किया जाएगा। इस टिप्पणी की सभी ओर से आलोचना की गई थी और इसके


बाद उन्हें माफी मांगनी पड़ी थी। 

हलदर की टिप्पणी पर कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि असंवेदनशील बयान दिया जाना जारी है। तथ्य यह है कि जन प्रतिनिधियों को न केवल बोलने में संयम बरतना चाहिए बल्कि सबसे महत्त्वपूर्ण यह है कि जहां महिलाओं की सुरक्षा का सवाल है, वहां माहौल बनाने में सकारात्मक भूमिका निभानी चाहिए।

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की पूर्व प्रमुख ममता शर्मा ने कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री स्वयं महिला हैं और तृणमूल के लोगों की ओर से ऐसा बयान दुर्भाग्यपूर्ण है। ऐसे लोगों को पार्टी से निलंबित किया जाना चाहिए। 

ममता बनर्जी को कदम उठाना चाहिए। माकपा के रितूब्रत बनर्जी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस में जो कुछ हो रहा है, यह बयान उसी की तर्ज पर है। आप इन नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की उम्मीद नहीं कर सकते हैं। 

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?