मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
विदेशी लड़ाकों पर सुरक्षा परिषद की बैठक बुलाएंगे बराक ओबामा PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Thursday, 28 August 2014 12:56


वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा सीरिया और इराक में विदेशी लड़ाकों से होने वाले खतरों पर अगले माह संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक बैठक बुलाएंगे।


      अनुमान है कि तकरीबन भारत समेत 50 देशों के विदेशी लड़ाके सीरिया और इराक के बड़े हिस्से पर कब्जा जमाए आईएसआईएल के लिए लड़ रहे हैं। अमेरिका के तकरीबन 100 लड़ाके भी उसमें शामिल हैं।

      व्हाइट हाउस प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने कल बताया, ‘‘अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा विदेशी लड़ाकों से होने वाले खतरों पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की एक बैठक बुलाने वाले हैं।’’

      अर्नेस्ट ने कहा, ‘‘यह राष्ट्रपति के लिए विश्व के नेताओं के साथ चर्चा करने का एक अहम अवसर होगा कि पश्चिमी देशों के पासपोर्ट वाले व्यक्ति पश्चिमी देशों की सरकारों को जो खतरा पेश कर रहे हैं उससे निबटने के लिए सहयोगात्मक रूप से क्या किया जा सकता है।’’

       व्हाइट हाउस प्रेस सचिव ने बताया कि तकरीबन 50 देशों के हजारों विदेशी लड़ाके आईएसआईएल के पक्ष में हथियार उठाने सीरिया गए हैं।

      अर्नेस्ट ने कहा, ‘‘ये ऐसे व्यक्ति हैं जिन्होंने कट्टरपंथी विचारधारा स्वीकार की है। ये ऐसे व्यक्ति हैं जिन्होंने कुछ फौजी प्रशिक्षण पाया है। कुछ मामलों में,


वे जंग में तपे हैं, और जैसा मैककैन ने प्रदर्शित किया, उन्होंने अपने लक्ष्यों के लिए मरने की इच्छा का प्रदर्शन किया।’’

      मुख्यधारा के अमेरिकी मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार सीरियाई विद्रोहियों के एक गठबंधन ने कहा है कि उसके लड़ाकों ने एक दूसरे अमेरिकी को मारा है। खुद को ‘नहरावां आॅफ सीरिया’ बताने वाले इस गठबंधन ने मारे गए अमेरिकी का नाम नहीं बताया है।

      नेशनल सिक्युरिटी काउंसिल के प्रवक्ता कैटलिन हैडन ने बताया, ‘‘हम मीडिया रिपोर्टिंग और सोशल मीडिया सक्रियता से अवगत हैं जो इंगित कर रहा है कि आईएसआईएल से संबद्ध एक दूसरा अमेरिकी नागरिक सीरिया में मारा गया है।’’

      हैडन ने कहा, ‘‘इस क्षण हम उन रिपोर्टों की पुष्टि करने की स्थिति में नहीं हैं। अगर इसमें तब्दीली आएगी तो हम अपडेट प्रदान करेंगे।

      इससे एक दिन पहले अमेरिका ने आईएसआईएल से संबंद्ध अमेरिकी नागरिक डगलस मैकआर्थर मैककैन की सीरिया में मौत की पुष्टि की थी।

      पेंटागन के अनुसार सीरिया में आईएसआईएल के लिए लड़ने वाले तकरीबन 100 अमेरिकी नागरिक हैं।

(भाषा)


आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?