मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
भारत में एनओएफएन से ई-कामर्स क्रांति आएगी: रवि शंकर प्रसाद PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 26 August 2014 15:06


  नई दिल्ली। इंटरनेट के माध्यम से उपलब्ध विकास के अवसरों के बारे में उम्मीद जताते हुए संचार एवं आईटी मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने आज कहा कि नेशनल ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क (एनओएफएन) से भारत में ई-कामर्स क्रांति आएगी।


    करीब 35,000 करोड़ रुपए मूल्य की इस महत्वाकांक्षी परियोजना का लक्ष्य भारत में मार्च, 2017 तक ढाई लाख ग्राम पंचायतों को तेज गति की ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी उपलब्ध कराना है। डिजिटल भारत कार्यक्रम के तहत विभिन्न पहल पर चर्चा के लिए केंद्र व राज्यों की पहली बैठक में प्रसाद ने कहा, ‘‘ एनओएफएन से एक सशक्त भारत का निर्माण होगा जहां गांव इंटरनेट सुपरवे की यात्रा पर होंगे। इससे देश में ई-कामर्स क्रांति आएगी।’’

    उन्होंने कहा कि उद्योग और लोगों दोनों के लिए


ही विकास के जबर्दस्त अवसर पैदा होंगे और पूरा देश ब्रॉडबैंड से जुड़ जाएगा।

    मंत्री ने कहा, ‘‘ जैसे ही इंटरनेट गांवों एवं सभी शहरों तक पहुंचेगा, वहां के लोग ऑनलाइन खरीदारी करेंगे जिससे ई-कामर्स का विस्तार होगा एवं अधिक संख्या में भंडारगृह खुलेंगे। इससे बड़ी तादाद में रोजगार के अवसरों का सृजन होगा और अर्थव्यवस्था में तेजी आएगी।’’

    पीडब्ल्यूसी व एसोचैम के एक अध्ययन के मुताबिक, ई-खुदरा उद्योग का आकार 2017 से 2020 तक 10-20 अरब डॉलर का होने और ई-कामर्स कंपनियों द्वारा इस दौरान ढांचागत निर्माण, लाजिस्टिक्स व भंडारगृहों पर 1.9 अरब डॉलर निवेश करने की संभावना है।

(भाषा) 

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?