मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
सब कुछ सपने जैसा लग रहा है: रॉबिन उथप्पा PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Monday, 02 June 2014 18:33

altबेंगलूर। लगातार 10 मैचों में 40 से अधिक का स्कोर बनाकर कोलकाता नाइट राइडर्स

को दूसरा आईपीएल खिताब दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले बल्लेबाज रॉबिन उथप्पा ने कहा कि फिलहाल उन्हें सब कुछ सपने की तरह लग रहा है क्योंकि उनकी टीम खिताब जतीने की प्रबल दावेदार नहीं मानी जा रही थी।

उथप्पा की शानदार फॉर्म की बदौलत केकेआर की टीम अंक तालिका के निचले हिस्से से उठते हुए फाइनल में जगह बनाने में सफल रही जहां उसने कल टूर्नामेंट में सबसे ठोस प्रदर्शन करने वाली किंग्स इलेवन पंजाब की टीम को हराकर खिताब जीता। उथप्पा ने टूर्नामेंट में 44 की औसत और 137.78 के स्ट्राइक रेट के साथ 660 रन बनाए और ग्लेन मैक्सवेल तथा ड्वेन स्मिथ जैसे खिलाड़ियों को पछाड़कर ऑरेंज कैप हासिल करने में सफल रहे।

विकेटकीपर की भी भूमिका निभाले वाले उथप्पा ने आईपीएल की आधिकारिक वेबसाइट से कहा, ‘‘यह बेजोड़ है। सब कुछ सपने की तरह लग रहा है। निजी तौर पर यह मेरे लिए एक साल में चौथे कप की तरह है। इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता। यह


शानदार सफर है।’’

उथप्पा ने कहा, ‘‘हमने अच्छी शुरुआत नहीं की थी लेकिन हमारे अंदर हमेशा से विश्वास था कि अगर हम एक बार में एक मैच पर ध्यान दें तो अपने अभियान को पटरी पर ला सकते हैं और हमने ऐसा ही किया। फाइनल में भी हमें पता था कि इस मैदान पर हम किसी भी लक्ष्य को हासिल कर सकते हैं। हमें सिर्फ रन रेट बनाए रखना होगा। सभी ने मैच में योगदान दिया।’’

उन्होंने कहा कि इस साल आईपीएल जीतना उनके लक्ष्यों में से एक था। उथप्पा ने कहा, ‘‘मैंने अपने लिए कुछ लक्ष्य निर्धारित किए थे कि मुझे क्या करना है। लेकिन यह साल कुछ अलग है। रणजी ट्रॉफी, विजय हमारे ट्रॉफी, ईरानी ट्रॉफी और अब आईपीएल, सभी एक ही साल में। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं यह कर पाऊंगा। यह बेजोड़ है।’’

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?