मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
IPL फाइनल स्थल बदलने का एक कारण ध्वनि प्रतिबंध भी : रंजीब बिस्वाल PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Thursday, 22 May 2014 17:03

कोलकाता। इंडियन प्रीमियर लीग के चेयरमैन रंजीब बिस्वाल ने आज साफ किया कि मुंबई में ध्वनि और आतिशबाजी पर प्रतिबंध उन कई कारणों में से एक था जिसके कारण इस टी20 क्रिकेट टूर्नामेंट का फाइनल बेंगलूर में करने का फैसला किया गया। 


मुंबई पुलिस के नियमों के अनुसार तेज ध्वनि की अनुमति रात दस बजे तक है तथा उदघाटन और समापन समारोह ध्वनि और प्रकाश शो के बिना होना संभव नहीं है। मुंबई क्रिकेट संघ ने आईपीएल संचालन परिषद से शनिवार तक प्रशासन से अनुमति लेने का आश्वासन दिया था लेकिन आईपीएल प्रशासन की योजना अलग थी। 

बिस्वाल ने यहां आईपीएल संचालन परिषद की बैठक के बाद कहा, ‘‘यह एकमात्र कारण नहीं था। संचालन परिषद का मानना था कि हमें क्रिकेट को अलग अलग स्थानों पर भी ले जाना चाहिए। इसलिए कोलकाता को प्लेऑफ दिया गया


और मुंबई दो मैचों का आयोजन करेगा। हम चारों मैच को चार अलग स्थानों पर आयोजित करना चाहते थे। कोई शर्त नहीं थी। हमने केवल उनकी कमियां बताई थी। ’’

 

आईपीएल के मुख्य संचालन अधिकारी : सीईओ : सुंदर रमन ने भी किसी विशेष स्थान या शहर को निशाना नहीं बनाया गया तथा रोटेशन नीति के कारण बेंगलूर को फाइनल की मेजबानी सौंपी गई। 

रमन ने कहा, ‘‘काफी विचार विमर्श के बाद हमने पाया कि मुंबई ने 2008, 2010 और 2011 में आईपीएल फाइनल की मेजबानी की और बेंगलूर में कभी फाइनल नहीं खेला गया। ये भी कारण थे। ’’

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?