मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
IPL 7 : लगातार सातवां मैच हारी दिल्ली डेयरडेविल्स PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 20 May 2014 12:51

फ़ज़ल इमाम मल्लिक

नई दिल्ली। आइपीएल का सातवें सत्र में फीरोजशाह कोटला पर दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम हार के सिलसिले को आखिरकार तोड़ नहीं पाई। अपने घरेलू मैदान पर खेला गया अंतिम मैच भी उसने गंवा दिया। जाहिर है कि इससे घरेलू दर्शकों को मायूसी भी हुई है। फीरोज शाह कोटला मैदान पर आइपीएल के सातवें संस्करण में दिल्ली का यह पांचवां मैच था और उसे एक में भी जीत नसीब नहीं हुई। दिल्ली की 12 मैचों में यह दसवीं हार है और वह तालिका में सबसे नीचे है। अब उसे दो मैच और खेलने हैं। 


सोमवार को खेले गए मैच में उसे किंग्स इलेवन पंजाब ने चार विकेट से हराया। दिल्ली की यह लगातार सातवीं हार है। हालांकि दिल्ली ने आज बेहतर प्रदर्शन किया और उसने जीत के मौके भी बना लिए थे लेकिन फिर जीत उसकी मुट्ठियों से फिसल गई। पहले बल्लेबाजी करते हुए उसने अंतिम के चार ओवरों में तीस रन ही बना सकी और फिर गेंदबाजी करते हुए शुरुआती ओवरों में गेंदबाजों ने रन लुटाए। लेकिन पंजाब की टीम को जीत का श्रेय देना होगा। सोमवार को इस सत्र के रनबाज रहे मैक्सवेल भी नहीं चले और मिलर भी सस्ते में चलते बने। लेकिन फिर भी टीम जीती तो इसका श्रेय युवा अक्षर पटेल को जाता है। वे टीम के नए रनबजा रहे। उन्होंने 42 रनों की नाबाद पारी खेल कर टीम को जील दिलाई। इस जीत की नींव युवा मनन वोहरा ने रखी। उन्होंने शुरुआती ओवरों में ताबड़तोड़ कर टीम को तेज शुरुआत दिलाई। इस जीत से पंजाब की टीम ने नाकआउट में अपनी जगह पक्की कर ली है। दिल्ली ने पंजाब को 165 रनों का लक्ष्य दिया था। पंजाब ने दो गेंदें बाकी रहते छह विकेट पर 166 रन बना लिया। पंजाब की इस सत्र में ग्यारह मैचों में यह नौंवीं जीत है। इस जीत से उसके 18 अंक हो गए हैं और उसने अंक तालिका में टाप पर अपनी जगह बनाए रखी है। 

 

166 रनों के लक्ष्य का पीछा पंजाब ने ताबड़तोड़ शुरुआत से की। ओपनर वीरेंद्र सहवाग और वोहराने 6.2 ओवर में 67 रन जोड़कर तूफानी शुरुआत दिलाई। सहवाग ने मोहम्मद समी पर दो चौके उड़ाए तो वोहरा ने उन पर लगातार दो छक्के जमाए। वोहरा ने वेन पार्नेल की कुटाई की। पिछले छह सत्र में दिल्ली की टीम का हिस्सा और उसके कप्तान भी रहे सहवाग 11 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब जयदेव उनादकट की गेंद को वे हवा में लहरा गए लेकिन इमरान ताहिर मिड आफ पर उनका मुश्किल कैच नहीं लपक पाए। वोहरा ने इसके बाद समी पर दो और चौके मारे जिससे टीम पवार प्ले में 66 रन जोड़ने में सफल रही। केविन पीटरसन ने इसके बाद गेंदबाजी में बदलाव कर इमरान ताहिर को मोर्चे पर लगाया। उन्होंने टीम को वोहरा के रूप में पहली कामयाबी दिलाई। वोहरा को लांग आफ पर मुरली विजय ने लपका। वोहरा ने अपनी 19 गेंदों की पारी में चार चौके और तीन छक्के उड़ाए।

मैक्सवेल ने आते ही ताबड़तोड़ करने की कोशिश की और ताहिर पर लांग लेग पर छक्का उड़ाया। सहवाग भी लय में दिख रहे ते। उन्होंने जेपी डुमिनी पर छक्का जमाया। लेकिन सहवाग और खुल पाते, डुमिनी ने उन्हें मनोज तिवारी के हाथों लपकवा कर टीम को राहत दिलाई। ताहिर ने इसके बाद टूर्नामेंट के बड़े रनबाज मैक्सवेल को बोल्ड कर दिल्ली के उन दर्शकों को मायूस किया जो उनका ताबड़तोड़ देखने फीरोजशाह कोटला पर पहुंचे थे। इस सत्र में उनकी बल्लेबाजी कमाल की रही और उनकी शोहरत की वजह से ही फीरोज शाह कोटला सोमवार को दर्शकों से पूरी तरह भरा था। लेकिन ताहिर ने उनको जल्द ही चलता कर पंजाब को बड़ा झटका दिया। इससे पंजाब संभल भी नहीं पाई थी कि डेविड मिलर भी डुमिनी की गेंद पर अपना लेग स्टंप उड़वा बैठे। तब टीम का स्कोर 94 रन था। पंजाब ने


लगातार चार ओवर में चार विकेट गंवाए। टीम ने ग्यारहवें ओवर में सौ रन पूरे किए। विकटों के पतन को रिद्धिमान साहा और पटेल ने थामा और पांचवें विकेट के लिए 33 महत्त्वपूर्ण रन जोड़े लेकिन समी ने साहा को शार्ट कवर पर पार्नेल के हाथों लपकवा कर दिल्ली की जीत की उम्मीदें बढ़ार्इं। 

पंजाब को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 38 रन की दरकार थी। पटेल ने पार्नेल पर तीन चौके जड़कर गेंद और रन के बीच के अंतर को कम किया। ताहिर ने दिल्ली के कप्तान जार्ज बैली को आउट किया लेकिन पटेल ने रिषि धवन के साथ मिलकर टीम को जीत दिला दी। पटेल ने 35 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का मारा।

इससे पहले कार्तिक ने 44 गेंद में सात चौकों और तीन छक्कों की मदद से 69 रन की पारी खेलने के अलावा पीटरसन :के साथ दूसरे विकेट के लिए 71 और जेपी डुमिनी के साथ तीसरे विकेट के लिए 56 रन की साझेदारी कर टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाया। टास हारकर बल्लेबाजी करने उतरे दिल्ली ने तीसरे ओवर में ही मुरली विजय का विकेट गंवा दिया। संदीप की गेंद पर हेंड्रिक्स ने पीछे दौड़ते हुए शानदार कैच लपका। पीटरसन और कार्तिक ने इसके बाद तेजी से रन बटोरे। पीटरसन ने हेंड्रिक्स के दूसरे ओवर में दो चौके और एक छक्का जड़ा। कार्तिक ने भी संदीप पर छक्का मारा। दोनों ने पावर प्ले के छह ओवर में स्कोर एक विकेट पर 55 रन तक पहुंचाया जो आइपीएल के इस सत्र का टीम का सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। पीटरसन लय में दिख रहे थे और सत्र में पहली बार उन्होंने कुछ अच्छे स्ट्रोक लगाए। लेकिन अक्षर पटेल की सीधी गेंद वे चूके और उनका डंडा उड़ गया। कार्तिक दूसरे छोर पर डटे रहे और इस दौरान आइपीएल में 200 पूरे करने वाले 16वें बल्लेबाज भी बने। उन्होंने 35 गेंद में आइपीएल का अपना नौवां अर्धशतक पूरा किया। डुमिनी के साथ मिल कर वे स्ट्राइक रोटेट करते रहे। अंतिम ओवरों में हालांकि रन गति बढ़ाने की कोशिश में वे हेंड्रिक्स की गेंद पर वाइड लांग आन पर ग्लेन मैक्सवेल को कैच दे बैठे। संदीप का पारी का 18वां ओवर घटना प्रधान रहा। उन्होंने पहली गेंद पर केदार जाधव को मैक्सवेल के हाथों कैच कराया। मयंक अग्रवाल ने आते ही संदीप पर छक्का जड़ा लेकिन अगली गेंद पर बोल्ड हो गए। ओवर की अंतिम गेंद पर मनोज तिवारी ने भी छक्का जड़ा। मनोज तिवारी ने पिछले मैच में अच्छा प्रदर्शन किया था। टीम प्रबंधन का उन्हें केदार जाधव से नीचे भेजना अटपटा लगा। उन्हें पहले जाधव से पहले भेजा गया होता तो टीम का टोटल ज्यादा हो सकता था। दिल्ली की टीम ने अंतिम चार ओवरों ने 30 रन जोड़े और पांच विकेट गंवाए। 

स्कोर बोर्ड

दिल्ली डेयरडेविल्स: मुरली विजय का हेंड्रिक्स बो संदीप 5, केविन पीटरसन बो पटेल 49, दिनेश कार्तिक का धवन बो हेंड्रिक्स 69, जेपी डुमिनी का मैक्सवेल बो हेंड्रिक्स 17, केदार जाधव का मैक्सवेल बो संदीप 0, मयंक अग्रवाल बो संदीप 6, मनोज तिवारी नाटआउट 10, वेन पार्नेल का मैक्सवेल बो हेंड्रिक्स 2, मोहम्मद शमी नाटआउट 1, अतिरिक्त: 5, कुल (सात विकेट पर) 164 रन।

विकेट पतन: 1-13, 2-84, 3-140, 4-144, 5-151, 6-155, 7-158

गेंदबाजी: संदीप 4-0-35-3, हेंड्रिक्स 4-0-36-3, पटेल 4-1-18-1, धवन 4-0-42-0, शिवम 4-0-32-0

किंग्स इलेवन पंजाब: वीरेंद्र सहवाग का तिवारी बो डुमिनी 23, मनन वोहरा का विजय बो ताहिर 42, ग्लेन मैक्सवेल बो ताहिर 14, डेविड मिलर बो डुमिनी 2, रिद्धिमान साहा का पार्नेल बो शमी 13, अक्षर पटेल नाटआउट 42, जार्ज बैली का जाधव बो ताहिर 6, रिषि धवन नाबाद 8, अतिरिक्त: 15, कुल(19.4 ओवर में छह विकेट पर) 165।

विकेट पतन: 1-67, 2-84, 3-92, 4-94, 5-127, 6-155

गेंदबाजी: पार्नेल 3.4-0-42-0, शमी 4-0-39-1, उनादकट 4-0-31-0, ताहिर 4-0-22-3, डुमिनी 4-0-27-2

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?