मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
IPL7: बंगलूर में ही खेला जाएगा आइपीएल का फाइनल PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Monday, 19 May 2014 09:22

altमुंबई। मुंबई क्रिकेट संघ (एमसीए) ने दी गई सारी शर्तों को मानने का वादा किया था

लेकिन फिर भी इंडियन प्रीमियर लीग की संचालन परिषद ने एक जून को होने वाले टी20 टूर्नामेंट के फाइनल को बंगलूर में ही आयोजित कराने का फैसला किया है, जैसे कि पहले घोषणा की गई थी। बीसीसीआइ सचिव संजय पटेल ने  कहा कि संचालन परिषद ने बीती रात ‘कांफ्रेंस वार्ता’ की और सदस्यों के बीच काफी बातचीत के बाद सर्वसम्मति से अपने पूर्व निर्णय पर ही अडिग रहने का फैसला किया गया, कि बंगलूर में ही फाइनल खेला जाएगा। 

पटेल ने कहा कि मुख्य कारणों में से एक है कि हमारे पास सोमवार या मंगलवार तक कोई समय नहीं है क्योंकि इसके आयोजन के लिए काफी तैयारियों की जरू रत होगी। बीसीसीआइ के अन्य सूत्रों ने संकेत दिया कि हालांकि एमसीए ने आइपीएल संचालन परिषद को लिखा है कि वह उनकी सारी मांगे पूरी करेगा, लेकिन रात दस बजे के बाद पटाखे चलाने की मुंबई पुलिस की लिखित अनुमति मुहैया नहीं कराई गई थी। 

एमसीए सचिव नितिन दलाल ने कहा कि यह अनुमति अगले कुछ हफ्तों में हासिल की जा सकती थी। दलाल ने कहा कि वे इस बात से वाकिफ नहीं हैं कि आइपीएल संचालन परिषद ने फाइनल बंगलूर में कराने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि हमने सारी मांगें स्वीकार कर ली हैं। शरद पवार इस हफ्ते यह


अनुमति हासिल कर लेते। 

मुंबई इंडियंस को 23 और 25 मई को वानखेड़े स्टेडियम में दो घरेलू मैच खेलने हैं जबकि 30 मई को होने वाला दूसरा क्वालीफायर भी इसी स्टेडियम में खेला जाएगा। 28 मई को होने वाला एलिमिनेटर मैच पास के ही क्रिकेट क्लब आफ इंडिया के ब्रैबोर्न स्टेडियम में आयोजित किया जाएगा। एमसीए ने गुरुवार को कहा था कि वह फाइनल कराने के लिए शर्तों के अनुसार बालीवुड स्टार और कोलकाता नाइटराइडर्स के मालिक शाहरुख खान पर से वानखेड़े स्टेडियम में प्रवेश के लिए फाइनल मैच के दिन प्रतिबंध हटाने को तैयार हैं। 

शाहरुख को 2012 में एमसीए अधिकारियों और सुरक्षाकर्मियों से कहासुनी के बाद वानखेड़े में प्रवेश करने से पांच साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया था। एमसीए के उपाध्यक्ष रवि सावंत ने कहा था कि इस अभिनेता को स्टेडियम में केवल फाइनल के लिए ही अनुमति दी जाएगी, किसी अन्य मैच के लिये नहीं। सावंत ने कहा था कि एमसीए ने आईपीएल की संचालन परिषद द्वारा फाइनल मैच आयोजित करने के लिए दी गयी सारी 14 शर्तें स्वीकार कर ली हैं। 

  

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?