मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
IPL7: आखिरी ओवर में बेंगलूर ने चेन्नई को हराया PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Sunday, 18 May 2014 19:49

altरांची। महेंद्र सिंह धोनी का तनाव भरे क्षणों में आखिरी ओवर डेविड हसी को सौंपने का फैसला गलत साबित हुआ जिससे रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर ने आज यहां स्पिनरों के दबदबे के बीच चेन्नई सुपरकिंग्स को पांच विकेट से हराकर आईपीएल सात के प्लेऑफ में पहुंचने की अपनी उम्मीद बरकरार रखी।

बेंगलूर के सामने केवल 139 रन का लक्ष्य था लेकिन चेन्नई के स्पिनरों के सामने उसके बल्लेबाजों के लिए रन बनाना मुश्किल हो गया। अंतिम ओवर में बेंगलूर को दस रन की दरकार थी। ऐसे में धोनी ने हसी को गेंद सौंपी जिन पर युवराज सिंह (नाबाद 13) ने छक्का और नए बल्लेबाज अबू नाचिम ने विजयी चौका जड़कर इस उतार चढ़ाव वाले मैच का अंत किया। 

धोनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया लेकिन उनकी टीम चार विकेट पर 138 रन ही बना पाई। सुरेश रैना ने 48 गेंदों पर छह चौकों और एक छक्के की मदद से नाबाद 62 रन बनाए। उन्होंने हसी के साथ तीसरे विकेट के लिए 59 गेंदों पर 75 रन की साझेदारी की। आईपीएल सात में अपना पहला मैच खेल रहे हसी ने 29 गेंदों पर 25 रन बनाए। 

पिच न सिर्फ धीमा खेल रही थी बल्कि स्पिन भी ले रही थी। बेंगलूर के बल्लेबाजों के लिए रन बनाना आसान नहीं था। पावरप्ले में केवल 17 रन बने और 17वें ओवर तक टिके रहने वाले क्रिस गेल 50 गेंद पर 46 रन ही बना पाए। विराट कोहली (29 गेंद पर 27 रन) का स्ट्राइक रेट भी 100 से कम रहा लेकिन एबी डिविलियर्स ने तीन छक्के जड़े और 14 गेंद पर 28 रन बनाये। आखिर में युवराज ने अपनी भूमिका बखूबी निभाई। 

बेंगलूर की यह 11वें मैच में पांचवीं जीत है जिससे उसके दस अंक हो गए हैं और वह अंकतालिका में पांचवें स्थान पर पहुंच गया है। दूसरे नंबर पर काबिज चेन्नई की यह 11 मैच में तीसरी हार है। 

मैच में गेंदबाजों विशेषकर स्पिनरों का दबदबा रहा। चेन्नई की तरफ से तेज गेंदबाज मोहित शर्मा ने केवल दो ओवर किए जबकि ईश्वर पांडे को गेंद ही नहीं सौंपी गई। अश्विन ने चार ओवर में 16 रन देकर दो विकेट लिए जबकि सैमुअल बद्री ने तीन ओवर में 15 और रैना ने चार ओवर में 20 रन दिए। हसी हालांकि 2.5 ओवर में 38 रन लुटा गए जिससे अंतर पैदा हुआ। 

वरुण आरोन बेंगलूर के लिए सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने तीन ओवर में 29 रन देकर दो विकेट लिए लेकिन उसके बाकी गेंदबाजों अबू नाचिम (18 रन देकर एक विकेट), मिशेल स्टार्क, मुथैया मुरलीधरन (29 रन देकर एक विकेट) और यजुवेंद्र चहल ने बल्लेबाजों पर अंकुश लगाए रखा। 

बेंगलूर के बल्लेबाजों को पावरप्ले में बद्री और अश्विन की स्पिन से जूझना पड़ा। मोहित के पहले ओवर में पार्थिव पटेल (10) ने दो चौके जड़े लेकिन इसके बाद पावरप्ले के अगले पांच ओवरों में केवल सात रन बने। यह आईपीएल सात में पावरप्ले में बना न्यूनतम स्कोर है। इस बीच अश्विन ने पार्थिव को स्लिप में रैना के हाथों कैच भी कराया।  

गेल के लिए अश्विन अबूझ पहेली बन गए। उन्होंने पावरप्ले के बाद हमवतन बद्री पर मिडविकेट पर पारी का पहला छक्का लगाया, लेकिन पहले दस ओवर में स्कोर 45 रन तक ही पहुंच पाया जो चेन्नई से दस रन कम था। बल्लेबाजों पर दबाव बढ़ गया था और


ऐसे में जडेजा की टर्न लेती गेंद पर बड़ा हिट मारने के लिए आगे बढ़े कोहली को धोनी ने आसानी से स्टंप आउट कर दिया। 

गेल ने जडेजा के इसी ओवर में पहले चौका और फिर लॉन्ग ऑन पर छक्का लगाया। डिविलियर्स ने भी हसी की गेंद छह रन के लिए भेजी। अश्विन ने अपने पहले तीन ओवर में केवल तीन रन दिए थे लेकिन उनका आखिरी ओवर महंगा साबित हुआ। डिविलियर्स और गेल ने उनके इस ओवर में छक्के लगाए लेकिन वह कैरेबियाई बल्लेबाज को बोल्ड करने में सफल रहे। डिविलियर्स भी हसी पर छक्का और चौका जड़ने के बाद पवेलियन लौटे। आखिर में बद्री का ओवर रहने के बावजूद हसी को गेंद सौंपने का फैसला सही साबित नहीं हुआ और बेंगलूर 19.5 ओवर में पांच विकेट पर 142 रन बनाने में सफल रहा।

इससे पहले ब्रैंडन मैकुलम (19) और ड्वेन स्मिथ (9) चेन्नई को अपेक्षित शुरुआत नहीं दे पाए। आरोन ने इन दोनों को तीन गेंद के अंदर आउट करके चेन्नई को संकट में डाल दिया था। पहले दस ओवर में चेन्नई का स्कोर 55 रन तक ही पहुंच पाया जो इस सत्र में उसकी सबसे धीमी शुरुआत है। रैना ने पहले स्टार्क और फिर आरोन पर लगातार दो-दो चौके जड़कर स्कोर बोर्ड में तेजी लाने की कोशिश की। उन्होंने लेग स्पिनर चहल पर खूबसूरत छक्का जमाया और फिर सचिन राणा पर चौका जड़कर 14वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पहुंचाया। 

दूसरे छोर पर खड़े हसी रन के बनाने के लिये जूझते रहे। उन्होंने चहल पर छक्का लगाया लेकिन मुरलीधरन की गेंद पर सीमा रेखा के करीब कैच थमा गए। रैना ने 35 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन धोनी (7) पिछले मैचों की तरह आज टीम के लिये सुखदायी अंत नहीं कर पाए। उन्होंने अबू नाचिम की शॉर्ट पिच गेंद को स्लैश किया जिसे प्वॉइंट पर खड़े क्रिस गेल ने बड़ी खूबसूरती से कैच में बदल दिया। यह पिछले पांच मैचों में पहला अवसर है जबकि धोनी आउट हुए। 

चेन्नई को इससे बड़ा नुकसान हुआ क्योंकि रैना और रविंद्र जडेजा (नाबाद 10) आखिरी चार ओवरों में गेंद को सीमा रेखा के पार नहीं पहुंचा पाए। इन ओवरों में केवल 24 रन बने। 


 चेन्नई सुपरकिंग्स 

 ड्वेन स्मिथ का डिविलियर्स बो आरोन 09 

 ब्रैंडन मैकुलम का स्टार्क बो आरोन 19

 सुरेश रैना नाबाद 62

 डेविड हसी का स्टार्क बो मुरलीधरन 25

 महेंद्र सिंह धोनी का गेल बो अबू नाचिम 07

 रविंद्र जडेजा नाबाद 10


 अतिरिक्त 06

 कुल : 20 ओवर में, चार विकेट पर : 138

 विकेट पतन : 1-29, 2-29, 3-104, 4-115


 गेंदबाजी 

 मुरलीधरन 4-0-29-1

 स्टार्क 4-0-23-0

 आरोन 3-0-29-2

 अबू नाचिम 4-0-18-1

 चहल 4-0-27-0

 सचिन राणा 1-0-9-0


 रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर 

 क्रिस गेल बो अश्विन 46

 पार्थिव पटेल का रैना बो अश्विन 10 

 विराट कोहली स्टंप धोनी बो जडेजा 27 

 एबी डिविलियर्स का जडेजा बो हसी 28 

 युवराज सिंह नाबाद 13 

 सचिन राणा का मैकुलम बो हसी 01

 अबू नाचिम नाबाद 04


 अतिरिक्त 13

 कुल : 19.5 ओवर में, पांच विकेट पर : 142

 विकेट पतन : 1-14, 2-75, 3-110, 4-125, 5-138


 गेंदबाजी 

 मोहित शर्मा 2-0-13-0

 अश्विन 4-1-16-2

 बद्री 3-0-15-0

 रैना 4-0-20-0

 जडेजा 4-0-31-1

 हसी 2.5-0-38-2

 

(भाषा) 


आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?