मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
IPL7:जीत से पंजाब फिर शीर्ष पर PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 14 May 2014 20:20

altहैदराबाद। रिद्धिमान साहा की अगुआई में बल्लेबाजों के धमाकेदार

प्रदर्शन की बदौलत किंग्स इलेवन पंजाब आईपीएल के बड़े स्कोर वाले मैच में आज यहां सनराइजर्स हैदराबाद को छह विकेट से हराकर शीर्ष पर पहुंच गया।


हैदराबाद के 206 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब ने साहा (26 गेंद में 54 रन), मनन वोहरा (20 गेंद में 47 रन) और ग्लेन मैक्सवेल (22 गेंद में 43) की तूफानी पारियों की मदद से आठ गेंद शेष रहते चार विकेट पर 211 रन बनाकर मैच जीत लिया। कप्तान जॉर्ज बैली (19 गेंद में नाबाद 35) और डेविड मिलर (24 गेंद में नाबाद 24) ने अंत में 52 रन की अटूट साझेदारी करके टीम की राह आसान की। 

इससे पहले हैदराबाद ने ओझा (नाबाद 79), कप्तान शिखर धवन (45) और डेविड वॉर्नर (44) की तूफानी पारियों की मदद से पांच विकेट पर 205 रन बनाए जो आईपीएल में टीम का शीर्ष स्कोर है। इस जीत से पंजाब की टीम 10 मैचों में आठ जीत से 16 अंक के साथ शीर्ष पर पहुंच गई। चेन्नई सुपरकिंग्स के भी इतने ही मैचों में 16 अंक हैं लेकिन पंजाब की टीम का नेट रन रेट बेहतर है। दूसरी तरफ हैदराबाद की 10 मैचों में यह छठी हार है।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी पंजाब की टीम ने दूसरी गेंद पर ही वीरेंद्र सहवाग (04) का विकेट गंवा दिया जिन्हें भुवनेश्वर कुमार ने अपनी ही गेंद पर लपका। इसके बाद साहा और वोहरा का तूफान देखने को मिला। दोनों ने 6.5 ओवर में 91 रन की साझेदारी की। साहा ने भुवनेश्वर पर चौके से खाता खोलने के बाद उनके अगले ओवर में तीन चौके मारे। वोहरा ने भी डेल स्टेन पर छक्का जड़ा।

साहा और वोहरा ने पावर प्ले के छह ओवर में टीम का स्कोर एक विकेट पर 86 रन तक पहुंचाया। साहा ने इस बीच 22 गेंद पर अर्धशतक भी पूरा किया।

कर्ण शर्मा ने साहा को ओझा के हाथों स्टंप कराके इस साझेदारी को तोड़ा। साहा ने 26 गेंद में आठ चौके और दो छक्के मारे। हैदराबाद को हालांकि राहत नहीं मिली। बेहतरीन फॉर्म में चल रहे मैक्सवेल ने कर्ण के इस ओवर में तीन छक्के जड़े और इस दौरान 7.3 ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचा दिया जो आईपीएल में किसी टीम का सबसे तेज शतक है।

वोहरा ने स्टेन पर अपना दूसरा छक्का जड़ा लेकिन अगले ओवर में दुर्भाग्यशाली तरीके से रन आउट हो गए। उन्होंने 20 गेंद की अपनी पारी में पांच चौके और दो छक्के मारे। मैक्सवेल ने इसके बाद कर्ण पर भी लगातार दो छक्के मारे लेकिन अमित मिश्रा ने लॉन्ग ऑफ पर उन्हें स्टेन के हाथों कैच करा दिया। उन्होंने 22 गेंद का सामना करते हुए दो चौके और पांच छक्के मारे।

पंजाब को अंतिम छह ओवर में जीत के लिए 40 रन की दरकार थी। मिलर और कप्तान जॉर्ज बैली ने इसके बाद आसानी से टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया। बैली ने 18वें ओवर में स्टेन की लगातार गेंदों पर दो छक्के और दो चौके मारे और फिर भुवनेश्वर पर छक्का जड़कर अपनी टीम को जीत दिला दी।

इससे पहले ओझा ने 36 गेंद में सात छक्कों और चार चौकों की मदद से नाबाद 79 रन की पारी खेलने के अलावा वॉर्नर (23 गेंद में 44 रन) के साथ तीसरे विकेट के लिए सात ओवर में 81 रन की साझेदारी भी की जिससे टीम


पहली बार 200 रन के स्कोर को पार करने में सफल रही। हैदराबाद ने अंतिम 10 ओवर में 133 रन जोड़े।

पंजाब के तेज गेंदबाज संदीप शर्मा ने चार ओवर में 65 रन देकर एक विकेट हासिल किया जो आईपीएल इतिहास की दूसरी सबसे महंगी गेंदबाजी है। शिखर और आरोन फिंच (20) की सलामी जोड़ी ने हैदराबाद को अच्छी शुरुआत दिलाई। फिंच ने संदीप पर चौके के साथ खाता खोला जबकि उनके अगले ओवर में भी चौका मारा। शिखर ने पहले चार ओवर में कोई बाउंड्री नहीं लगाई लेकिन पांचवें ओवर में उन्होंने संदीप पर चार चौकों और एक छक्के के साथ 26 रन बटोरे। उन्होंने अक्षर पटेल पर भी छक्का जड़ा।

ऑफ स्पिनर शिवम शर्मा ने फिंच को बोल्ड करके शिखर के साथ उनकी 65 रन की साझेदारी का अंत किया। हैदराबाद ने वॉर्नर की जगह ओझा को बल्लेबाजी क्रम में ऊपर भेजा और उन्होंने लॉन्ग ऑन पर शिवम पर छक्का जड़कर अपने तेवर दिखाए।

तेज गेंदबाज रिषि धवन ने शिखर को पवेलियन भेजकर हैदराबाद को दूसरा झटका दिया। उन्होंने 37 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और दो छक्के मारे। ओझा को इसके बाद वॉर्नर का अच्छा साथ मिला। ओझा ने शिवम पर लगातार दो छक्के जड़कर 13वें ओवर में हैदराबाद के रनों का शतक पूरा किया। उन्होंने इसके बाद रिषि की गेंद को भी दर्शकों के बीच पहुंचाया। वॉर्नर ने भी रिषि पर छक्का जड़ा जबकि इसी तेज गेंदबाज पर दो रन के साथ टी20 क्रिकेट में 5000 रन पूरे किए। उनसे पहले वेस्टइंडीज के क्रिस गेल, ऑस्ट्रेलिया के ब्रेड हॉज और डेविड हसी तथा न्यूजीलैंड के ब्रैंडन मैकुलम यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं।

वॉर्नर ने 18वें ओवर में बाएं हाथ के स्पिनर अक्षर पटेल पर दो छक्के और एक चौका मारा। बाएं हाथ का यह बल्लेबाज हालांकि अगले ओवर में रन आउट हो गया। उन्होंने 23 गेंद में तीन चौके और तीन छक्के मारे। संदीप ने मोइजेस हैनरिक्स (00) को पवेलियन भेजा। ओझा ने हालांकि संदीप के इस ओवर में दो छक्के और दो चौके मारे और इस दौरान 29 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। पारी के अंतिम ओवर में ओझा ने रिषि पर छक्का जड़कर टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंचाया।


 सनराइजर्स हैदराबाद:

 आरोन फिंच बो शिवम 20

 शिखर धवन का शिवम बो रिषि 45

 नमन ओझा नाबाद 79

 डेविड वॉर्नर रन आउट 44

 मोइजेस हैनरिक्स का मिलर बो संदीप 00

 इरफान पठान का मिलर बो धवन 01

 कर्ण शर्मा नाबाद 01


 अतिरिक्त: 15

 कुल:20 ओवर में पांच विकेट पर: 205 रन

 विकेट पतन: 1-65, 2-88, 3-169, 4-183, 5-196


 गेंदबाजी:

 संदीप 4-0-65-1

 जॉनसन 4-0-26-0

 शिवम 4-0-31-1

 पटेल 4-0-40-0

 रिषि 4-0-42-2


 किंग्स इलेवन पंजाब: 

 वीरेंद्र सहवाग का एवं बो भुवनेश्वर 04

 मनन वोहरा रन आउट 47

 रिद्धिमान साहा स्टं ओझा बो कर्ण 54

 ग्लेन मैक्सवेल का स्टेन को मिला 43

 डेविड मिलर नाबाद 24

 जॉर्ज बैली नाबाद 35


 अतिरिक्त: 04

 कुल: 18.4 ओवर में चार विकेट पर : 211 रन

 विकेट पतन: 1-4, 2-95, 3-125, 4-159


 गेंदबाजी:

 भुवनेश्वर 3.4-0-38-1 

 स्टेन 4-0-51-1

 हैनरिक्स 2-0-36-0

 कर्ण 4-0-46-1

 मिश्रा 4-0-32-1

 पठान 1-0-5-0

 (भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?