मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
IPL-7:रॉयल्स की कड़ी चुनौती से निबटना होगा आरसीबी को PDF Print E-mail
User Rating: / 1
PoorBest 
Saturday, 10 May 2014 12:57

altबेंगलूर। पिछले मैच में हार से आहत रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर को आईपीएल सात

के कल होने वाले अगले मैच में राजस्थान रॉयल्स की कड़ी चुनौती का सामना करना होगा। बेंगलूर को कल रात किंग्स इलेवन पंजाब के हाथों हार झेलनी पड़ी थी और डेविड मिलर ने जिस तरह से उसके गेंदबाजों को निशाना बनाया उन्हें उससे उबरने में थोड़ा समय लगेगा।दूसरी तरफ राजस्थान रॉयल्स को अपने आखिरी मैच में सनराइजर्स हैदराबाद के गेंदबाजों के सामने जूझना पड़ा था। बल्लेबाजों की नाकामी के कारण उसकी टीम यह मैच 32 रन से हार गई थी। 

विराट कोहली की अगुवाई में बेंगलूर मुकाबले में बने रहने के लिए संघर्ष कर रहा है। उसे अब तक आठ मैचों में पांच में हार का सामना करना पड़ा है और वह छह अंक के साथ छठे स्थान पर है। उसके लिए अब प्रत्येक मैच करो या मरो जैसा बन गया है। जहां तक राजस्थान का सवाल है तो वह आठ टीमों के इस टूर्नामेंट में पांच जीत और तीन हार के साथ तीसरे स्थान पर है। 

बेंगलूर की टीम घरेलू परिस्थितियों का फायदा उठाने में नाकाम रही। टीम को अपने शीर्ष बल्लेबाजों से रॉयल्स के खिलाफ फॉर्म में वापसी की उम्मीद रहेगी। 

आरसीबी ने अच्छी शुरुआत की थी। उसने क्रिस गेल के बिना पहले दो मैच जीते लेकिन इसके बाद यूएई में वह अगले तीन मैच हार गया। मांसपेशियों में खिंचाव के कारण आरसीबी के पहले चार मैच में नहीं खेल पाने वाले गेल वापसी पर थोड़ी देर के लिए ही अपने विस्फोटक तेवर दिखा पाए। वह अब तक बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे हैं।  

कप्तान कोहली भी पिछले कुछ मैचों से नहीं चल पाए हैं और यह 25 वर्षीय


बल्लेबाज भी बड़ा स्कोर खड़ा करने के लिये उत्सुक है। रिकार्ड 14 करोड़ रुपए में खरीदे गए युवराज सिंह अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतरे हैं। 

एबी डिविलियर्स ने हालांकि अपनी अच्छी फॉर्म जारी रखी है। उन्होंने पंजाब के खिलाफ भी 26 गेंद पर 53 रन की तूफानी पारी खेली। वह बाकी बचे छह मैचों में अपनी इस फॉर्म को बरकरार रखने की कोशिश करेंगे। 

आरसीबी का गेंदबाजी आक्रमण संतुलित दिखता है। तेज गेंदबाज वरूण आरोन (12 विकेट), मिशेल स्टार्क (11 विकेट) और लेग स्पिनर यजुवेंद्र चहल (10) ने अब तक अच्छी गेंदबाजी की है।

दूसरी तरफ हैदराबाद से अपना पिछला मैच गंवाने वाला रॉयल्स फिर जीत की राह पर लौटने की कोशिश करेगा। उसका दारोमदार फिर से कप्तान शेन वॉटसन पर है। पिछले मैच में 13 रन देकर तीन विकेट लेने वाला यह ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर बल्लेबाजी में भी कमाल दिखाना चाहेगा। उन्होंने पिछले मैच में केवल 11 रन बनाए थे। 

युवा करूण नायर ने शीर्ष क्रम में अच्छा प्रदर्शन किया है। पिछले मैच में शून्य पर आउट होने वाले अंजिक्य रहाणे बेंगलूर के खिलाफ उसकी भरपाई करना चाहेंगे। इनके अलावा संजू सैमसन और स्टीवन स्मिथ के रूप में रॉयल्स के पास दो उपयोगी बल्लेबाज हैं।

गेंदबाजी में 42 साल के लेग स्पिनर प्रवीण ताम्बे ने लगातार प्रभावशाली प्रदर्शन किया है। वॉटसन ने भी गेंदबाजी में अपना कमाल दिखाना शुरू कर दिया है। उसकी टीम ने हैदराबाद को नौ विकेट पर 134 रन ही बनाने दिे थे लेकिन बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन के कारण उसे हार झेलनी पड़ी थी। 

(भाषा)


आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?