मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
IPL-7:मुंबई इंडियंस का सामना चेन्नई सुपरकिंग्स से PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 09 May 2014 13:16

altमुंबई। संयुक्त अरब अमीरात में लगातार पांच शिकस्त झेलने के बाद गत चैम्पियन मुंबई इंडियंस

का अभियान पटरी पर आ गया है और आज यहां वानखेड़े स्टेडियम में दो बार की विजेता चेन्नई सुपरकिंग्स से होने वाला आईपीएल मुकाबला उनके लिये काफी चुनौतीपूर्ण होगा। 


मेजबान टीम के लिये चैम्पियंस लीग विजेता के खिलाफ यह मैच काफी महत्वपूर्ण होगा जिसमें चेन्नई की टीम आठ मैचों में छह जीत से तालिका में दूसरे स्थान पर काबिज है। मुंबई की किंग्स इलेवन पंजाब के बाद रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर पर घरेलू मैदान पर मिली लगातार जीत ने उसे चार प्ले ऑफ स्थान की दौड़ में वापस ला दिया है। 

हालांकि अगर उसे इसमें हार मिली तो उसकी सुपरकिंग्स (2010 और 2011) की तरह लगातार खिताब जीतने की दौड़ से एक तरह से बाहर हो जाएगी। मुंबई की टीम मजबूत सुपरकिंग्स के खिलाफ विजयी लय बनाये रखने को बेताब होगी, जिसका मनोबल, विशेषकर इसके गेंदबाजों का, पिछले मैच में किंग्स इलेवन पंजाब से मिली 44 रन की शिकस्त के बाद गिरा हुआ है। 

चेन्नई के गेंदबाजों की पंजाब के ग्लेन मैक्सवेल एंड कंपनी ने धज्जियां उड़ा दी थी। उन्हें मुंबई के फॉर्म में चल रहे कप्तान रोहित शर्मा और वेस्टइंडीज के किरोन पोलार्ड की चुनौती से भिड़ना होगा। वानखेड़े की पिच पर


गेंद आराम से बल्ले पर आती है, जिससे चेन्नई के गेंदबाजी विभाग को मुश्किल पेश आ सकती है। 

मुंबई की टीम में अम्बाती रायुडू और कोरी एंडरसन जैसे बल्लेबाज मौजूद हैं जबकि सलामी बल्लेबाज चिदम्बरम गौतम ने भी अपने हिट से लोगों को प्रभावित किया। सुपरकिंग्स के बल्लेबाज विशेषकर ब्रैंडन मैकुलम और ड्वेन स्मिथ के अलावा सुरेश रैना और महेंद्र सिंह धोनी इस पिच का फायदा उठाने का प्रयास करेंगे जो स्ट्रोक्स खेलने के लिये अच्छा है। 

दोनों टीमों के आक्रमण संतुलित है जिसमें मुंबई के लिए लसिथ मलिंगा (9 विकेट) और चेन्नई के लिये मोहित शर्मा (14) सबसे सफल मध्यगति के गेंदबाज है। जहीर खान की चोट से मुंबई के आक्रमण को करारा झटका लगा है, जिनकी जगह उत्तर प्रदेश के स्विंग गेंदबाज प्रवीण कुमार को शामिल किया गया। मुंबई के पास हरभजन सिंह (6 विकेट) है तो चेन्नई के पास रविंद्र जडेजा (11 विकेट) और आर अश्विन (07) मौजूद हैं।

 

(भाषा)


आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?