मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
आईपीएल-7 : मेक्सवेल (95) की तुफ़ानी पारी, हैदराबाद को 194 रन का लक्ष्य PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 22 April 2014 19:50

शारजाह। ग्लेन मैक्सवेल लगातार तीसरे मैच में शतक से चूक गये

Follow IPL 7 live updates here.

लेकिन गेंदबाजों के खिलाफ बेदर्दी दिखाने के उनके अभियान से किंग्स इलेवन पंजाब ने आईपीएल सात के मैच में आज यहां सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ छह विकेट पर 193 रन का मजबूत स्कोर बनाया।

मैक्सवेल का दो बार भाग्य ने भी साथ दिया और उन्होंने इसका पूरा फायदा उठाकर 43 गेंदों पर 95 रन की तूफानी पारी खेल दी जिसमें पांच चौके और नौ छक्के शामिल हैं। मैक्सवेल ने पिछले दो मैचों में 95 और 89 रन बनाये थे। वह माहेला जयवर्धने के बाद टी20 में लगातार तीन पारियों 80 से अधिक रन बनाने वाले दूसरे बल्लेबाज बन गये।

Stay update, stay connected with The Indian Express Social Apps.

तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने ‘मैक्सी पावर’ के बावजूद शानदार गेंदबाजी की और चार ओवर में 19 रन देकर तीन विकेट लिये। लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने दो विकेट जरूर लिये लेकिन इसके लिये उन्होंने 56 रन लुटाये। इनमें से 36 रन अकेले मैक्सवेल के बल्ले से निकले।

वीरेंद्र सहवाग (22 गेंद पर 30 रन) पावरप्ले में तेज शुरूआत देने के बाद पवेलियन लौटे। उन्होंने चेतेश्वर पुजारा (32 गेंद पर 35 रन) के साथ पहले विकेट के लिये 51 रन की साझेदारी की।

पंजाब ने पिछले दो मैचों में बड़े लक्ष्य हासिल किये थे इसलिए सनराइजर्स के कप्तान शिखर धवन ने टास जीतकर उन्हें पहले बल्लेबाजी का न्यौता दिया। पहले दो ओवर में शांत बने रहने के बाद सहवाग ने तीसरे ओवर में इरफान पठान पर बैकवर्ड स्क्वॉयर लेग पर छक्का और फिर दो चौके लगाकर शुरुआत की। इसके बाद उन्होंने भुवनेश्वर की गेंद भी छह रन के लिये भेजी।

पिछले मैच में आखिर तक एक छोर संभाले रखने के बावजूद नाबाद 40 रन बनाने वाले पुजारा ने डेल स्टेन के एक ओवर में तीन चौके जड़कर हाथ खोलने की कोशिश की। पंजाब ने पावरप्ले के छह ओवरों में 43 रन बनाये जिसके बाद धवन ने अपने मुख्य स्पिनर मिश्रा को गेंद सौंपी। सहवाग ने लांग


आफ पर छक्का लगाकर उनका स्वागत किया लेकिन अगली गेंद लांग आन पर खड़े डेरेन सैमी के सुरक्षित हाथों में चल गयी। सहवाग ने अपनी पारी में दो चौके और तीन छक्के लगाये।

पुजारा ने भी सीमा रेखा पर कैच थमाया लेकिन सनराइजर्स को सबसे बड़ा झटका डेविड वॉर्नर ने दिया जिन्होंने मैक्सवेल का हवा में लहराता आसान कैच तब टपका दिया जबकि वह 13 रन पर थे। कर्ण शर्मा के इसी ओवर में पहले छक्का जड़ने वाले मैक्सवेल को मिले जीवनदान का सबसे ज्यादा खामियाजा मिश्रा ने भुगता जिनके एक ओवर में इस विस्फोटक बल्लेबाज ने चार छक्के जड़कर 25 रन बटोरे।

उन्होंने अगले ओवर में कर्ण शर्मा की गेंद लांग आफ पर छह रन के लिये भेजकर केवल 21 गेंदों पर अर्धशतक पूरा किया। भाग्य ने इसके बाद भी उनका साथ दिया और सैमी की जिस गेंद पर डीप मिडविकेट पर उनका कैच लपका गया वह नोबाल निकल गयी। सैमी के इसी ओवर में छक्का और चौका जड़कर उन्होंने इसका जश्न मनाया। किंग्स इलेवन ने इस बीच चार ओवर में 66 रन बटोरे।

डेविड मिलर (10) आज आखिर तक नहीं टिक पाये लेकिन मैक्सवेल का भी नाबाद होकर वापस लौटने का सपना पूरा नहीं हो पाया। पारी के 18वें ओवर में मिश्रा पर दो छक्के जड़ने के बाद उन्होंने लांग आफ खड़े सैमी को कैच का अभ्यास कराया। इस तरह से मैक्सवेल का टी20 में पहले शतक का इंतजार अब भी बना हुआ है। उनके आउट होने के कारण किंग्स इलेवन आखिरी दो ओवर में केवल 14 रन बना पाया।

(भाषा)

 

लाइल स्कोर के लिए क्लिक करें...

 

 

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?