मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
आज आईपीएल-7 आग़ाज़, पहला मैच मुंबई इंडियंस और नाइट राइडर्स में PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 16 April 2014 00:05

अबु धाबी। स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण के बाद क्रिकेटप्रेमियों का भरोसा फिर जीतने की कोशिश में जुटी विवादित इंडियन प्रीमियर लीग में तड़क भड़क को हाशिये पर रखकर क्रिकेट को सर्वोपरि दर्जा देने के वादे के साथ सातवें सत्र का आज यहां आगाज होगा।

रोहित शर्मा की कप्तानी में गत चैम्पियन मुंबई इंडियंस का सामना 2012 के विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स से होगा जिसकी अगुवाई गौतम गंभीर कर रहे हैं।

भारत में आम चुनावों के कारण आईपीएल के पहले सत्र का आयोजन 16 से 30 अप्रैल तक संयुक्त अरब अमीरात में किया जा रहा है। टूर्नामेंट दो मई से भारत में होगा।

क्रिकेटप्रेमियों को चुंबक की तरह खींचने वाली आईपीएल की रौनक स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण के कारण कम नहीं हुई है लेकिन आयोजकों ने इस बार ग्लैमर को कम रखने का वादा किया है।

इस साल कोई उद्घाटन समारोह नहीं होगा। इसकी जगह एक भव्य डिनर होगा जिसमें बॉलीवुड स्टार और केकेआर के मालिक शाहरूख खान समेत कई बालीवुड हस्तियां परफॉर्म करेंगी।

इसके बाद से सारा फोकस मैदानी गतिविधियों पर रहेगा चूंकि आईपीएल सट्टेबाजी मामले की जांच उच्चतम न्यायालय की निगरानी में चल रही है जिसमें लीग से जुड़े कई बड़े नाम शक के घेरे में हैं।

बीसीसीआई अध्यक्ष और चेन्नई सुपर किंग्स के मालिक एन श्रीनिवासन को किनारा करने के लिये मजबूर होना पड़ा और लीग के सीओओ सुंदर रमन पर भी गाज गिर सकती है।

टूर्नामेंट भले ही विदेश में हो रहा है लेकिन यहां भारी तादाद में बसे भारतीयों में लीग को लेकर उत्साह इस कदर है कि कुछ ही दिन में सारे टिकट बिक गए।

अमीरात को मेजबान चुनने के फैसले पर भी सवाल उठाये गए थे क्योंकि यह मैच फिक्सरों की ऐशगाह रहा है। आईपीएल आयोजकों का कहना है कि यह फैसला लॉजिस्टिक आधार पर लिया गया।

टूर्नामेंट से पहले के विवाद एक बार मैच शुरू होने के बाद हाशिये पर चले जायेंगे और फोकस उन खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर रहेगा जिन्हें करोड़ों रुपए खर्च करके खरीदा गया है।

इनमें भारतीय हरफनमौला युवराज सिंह शामिल है जो आईपीएल की नीलामी में सबसे महंगे बिके। उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर ने 14 करोड़ रुपए में खरीदा था। टी20 विश्व में भारत के फ्लॉप शो के बाद आलोचकों के कोपभाजन बने युवराज पर खुद को साबित करने की महती जिम्मेदारी है।

दिल्ली डेयरडेविल्स द्वारा नौ करोड़ रुपए में खरीदे गए इंग्लैंड के केविन पीटरसन भी अपने संन्यास को लेकर विवाद के बाद नये सिरे से शुरूआत


करना चाहेंगे। ईसीबी ने क्रिकेट से इतर मसलों के चलते उन्हें संन्यास लेने को मजबूर किया।

विकेटकीपर दिनेश कार्तिक पर भी सभी की नजरें होंगी जिन्हें दिल्ली ने 12 करोड़ रुपए में खरीदा। इसके अलावा घरेलू खिलाड़ी भी अच्छा प्रदर्शन करके चयनकर्ताओं का ध्यान खींचना चाहेंगे।

एक जून को मुंबई में खत्म हो रहे टूर्नामेंट की विजेता टीम को दस करोड़ रुपए मिलेंगे जबकि कुल ईनामी राशि 30 करोड़ रुपए है।

इस मैच में मुंबई का पलड़ा भारी रहने की उम्मीद है। दूसरी ओर कई नये खिलाड़ियों के आने से केकेआर भी संतुलित लग रही है। केकेआर ने सिर्फ दो खिलाड़ियों (गंभीर और सुनील नारायण) को बरकरार रखा है।

केकेआर की बल्लेबाजी गंभीर, जाक कैलिस और खराब फॉर्म में चल रहे युसूफ पठान पर निर्भर होगी।

मुंबई ने पिछले साल खिताब जीतने वाली टीम में ज्यादा बदलाव नहीं किये लेकिन ऑस्ट्रेलिया के माइकल हस्सी के आने से उसकी बल्लेबाजी मजबूत हुई है। हस्सी पहले चेन्नई सुपर किंग्स का हिस्सा थे।

दिल्ली के अलावा किंग्स इलेवन पंजाब भी काफी मजबूत लग रही है जिसके पास अब वीरेंद्र सहवाग, चेतेश्वर पुजारा और ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिशेल जानसन जैसे खिलाड़ी हैं।

क्रिकेट के अलावा सभी की नजरें भ्रष्टाचार निरोधक उपायों पर भी होगी जो लीग को साफ सुथरा और विवादमुक्त रखने के लिये आईपीएल संचालन परिषद ने शुरू किये हैं।

इनमें से एक महत्वपूर्ण कदम अप्रिय तत्वों को फ्रेंचाइजी या खिलाड़ियों से दूर रखने में आईसीसी की मदद लेना है । इससे पहले लीग में आंतरिक व्यवस्था थी जिसकी कई पूर्व खिलाड़ियों और क्रिकेट के जानकारों ने निंदा की थी।

 

टीमें :

मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), लसिथ मलिंगा, कीरोन पोलार्ड, हरभजन सिंह, अंबाती रायुडू, माइकल हस्सी, जहीर खान, प्रज्ञान ओझा, कोरे एंडरसन, जोश हेजलवुड, सी एम गौतम, आदित्य तारे, अपूर्व वानखेड़े, मर्चेंट डि लांगे, कृष्मार संतोकी, बेन डंक, पवन सुयाल, सुशांत मराठे, जसप्रीत बुमरा, श्रेयस गोपाल, जलज सक्सेना।

कोलकाता नाइट राइडर्स : गौतम गंभीर (कप्तान), सुनील नारायण, जाक कैलिस, रोबिन उथप्पा, युसूफ पठान, शाकिब अल हसन, उमेश यादव, विनय कुमार, मोर्नी मोर्कल, पीयूष चावला, मनीष पांडे, वीरप्रताप सिंह, क्रिस लिन, आंद्रे रसेल, एस एस मंडल, पैट कमिंस, देवव्रत दास, सूर्यकुमार यादव, मानविंदर बिस्ला, रियान टेन डोइशे, कुलदीप यादव।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?