मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
हमारे पास अब तक की सबसे मजबूत टीम : वाटसन PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 15 April 2014 22:33

मुंबई। पिछले छह वर्षों से राजस्थान रॉयल्स का हिस्सा रहे ऑस्ट्रेलिया के स्टार ऑलराउंडर शेन वाटसन का मानना है कि इंडियन प्रीमियर लीग के इस सत्र में जयपुर फ्रेंचाइजी अपनी सबसे मजबूत टीम उतार रही है।

वाटसन ने यूएई में कल से शुरू हो रही टूर्नामेंट में अपनी टीम की संभावना के बारे में पीटीआई को दिये ईमेल इंटरव्यू में कहा, ‘‘मैं भविष्यवाणी नहीं करना चाहता हूं लेकिन हम निश्चित तौर पर कड़ी प्रतिस्पर्द्धा देने वाले हैं। मेरे विचार में यह राजस्थान रॉयल्स की अब तक की सबसे मजबूत टीम है। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमारे पास टीम में प्रत्येक पोजीशन के लिये बहुत अच्छे विकल्प और बैक अप है। पिछले वर्षों तक हर साल हमारे पास ऐसा नहीं था। ’’

इस बार रॉयल्स की कप्तानी संभाल रहे वाटसन ने कहा कि पुणे वारियर्स के हटने से एक टीम कम है और ऐसे में टूर्नामेंट खुला और रोमांचक बन गया है।

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन इससे सफलता या अधिक सफलता की गारंटी सुनिश्चित नहीं हो जाती है क्योंकि विरोधी टीम को भी यही लाभ मिलने वाला है। इसका मतलब है कि इस बार प्रत्येक टीम के पास बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं। इसलिए मेरा मानना है कि इस बार मुकाबला काफी कड़ा होगा। ’’

ऑस्ट्रेलिया की तरफ से 52 टेस्ट, 173 वनडे और 45 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेल चुके वाटसन ने कहा कि रॉयल्स के पास काफी अच्छे खिलाड़ी हैं। उसने पिछले साल के कुछ खिलाड़ियों को रिटेन भी किया था।

उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए इसमें संदेह नहीं कि हम पहले की


तरह हर संभव प्रयास करेंगे लेकिन निश्चित तौर पर हमारे पास कुछ बेहतरीन खिलाड़ी हैं। हमने पिछले साल के अपने प्रमुख खिलाड़ियों को रिटेन किया जो कि इस साल के लिये हमारी रणनीति के हिसाब से महत्वपूर्ण है।

वाटसन ने कहा, ‘‘लेकिन यह पिछले साल की तरह सफलता की गारंटी नहीं है क्योंकि विरोधी टीमें भी पिछले साल की तुलना में अधिक मजबूत बन गयी है। लेकिन हमें अपनी तरफ से बेहतर खेल दिखाकर खुद के लिये मौके बनाने होंगे। ’’

वाटसन ने कहा कि उनकी टीम कुछ खिलाड़ियों के स्पॉट फिक्सिंग में फंसने के कारण पैदा हुए विवादों को पीछे छोड़ चुकी है। उन्होंने अपनी टीम के दोषी पाये गये तीनों खिलाड़ियों के कृत्य को विश्वासघात करार दिया।

उन्होंने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर उन तीन खिलाड़ियों के साथ जो कुछ हुआ उससे पैदा हुए विवाद को हमने एक सप्ताह के अंदर भुला दिया था। मैं कभी ऐसे माहौल में नहीं रहा जहां मैंने भरोसा टूटते हुए देखा क्योंकि हमारा वास्तव में मानना था कि हमारी टीम एक मजबूत परिवार है और उन तीनों ने जो कुछ किया वह विश्वासघात था। ’’

वाटसन एस श्रीसंत, अंकित चव्हाण और अजित चंदीला का जिक्र कर रहे थे जिन्हें पिछले साल स्पॉट फिक्सिंग में कथित भागीदारी के लिये गिरफ्तार किया गया था।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?