मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
कोलकाता में नरेन्द्र मोदी की रैली आज PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 05 February 2014 09:40

जनसत्ता संवाददाता

कोलकाता। भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी अपने देशव्यापी अभियान के तहत बुधवार को महानगर के ब्रिगेड परेड ग्राउंड में एक रैली को संबोधित करेंगे। यह राज्य में मोदी की पहली रैली है। वैसे उनकी रैली से पहले कम विवाद नहीं हुए हैं।

पहले तो प्रदेश भाजपा ने यह कह कर विवाद खड़ा कर दिया कि उसे राज्य पुलिस पर भरोसा नहीं है। इसी आधार पर मोदी की सुरक्षा के लिए गुजरात पुलिस के सौ जवानों व अधिकारियों की टीम यहां पहुंच गई है। मोदी को हवाई अड्डे से हेलिकाप्टर से रेस कोर्स पहुंचना है। लेकिन सेना ने वहां हेलिकाप्टर उतारने की अनुमति नहीं दी है। भाजपा ने इस रैली में मोदी को सामने से देखने के इच्छुक लोगों से सौ-सौ रुपए का चंदा लिया है।

 

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राहुल सिन्हा सिन्हा ने कहा कि अलग-अलग टीमों में गुजरात पुलिस के 100 से अधिक अधिकारी सुरक्षा इंतजामों का जायजा लेने के लिए राज्य का दौरा कर चुके हैं। मोदी की सभा के दौरान सुरक्षा व्यवस्था की देखरेख के लिए पहुंची गुजरात पुलिस व एनएसजी की टीम के प्रति राज्य सरकार का बेहद ठंडा रुख देखने को मिला। प्रोटोकॉल के मुताबिक राज्य सरकार की ओर से गुजरात पुलिस के अधिकारियों के ठहरने आदि की व्यवस्था की जानी चाहिए। लेकिन राज्य सरकार को इस बारे में कई बार सूचना देने पर भी ऐसा कुछ नहीं किया गया। ब्रिगेड की सभा को ध्यान में रखते हुए गुजरात पुलिस के डीआइजी के नेतृत्व में लगभग 25 अधिकारियों की टीम सोमवार को ही पहुंच गई थी। उनके अलावा


नेशनल सिक्योरिटी गार्ड (एनएसजी) की टीम ने भी ब्रिगेड  की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया है।

प्रदेश भाजपा के सचिव रीतेश तिवारी ने बताया कि रैली के लिए तीन मंच बनाए गए हैं। मैदान में 12 एलसीडी टीवी की भी व्यवस्था होगी। मुख्य मंच पर नरेंद्र मोदी के अलावा भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह, वरुण गांधी, सिद्धार्थ नाथ सिंह, राहुल सिन्हा व प्रदेश भाजपा के सभी पूर्व अध्यक्ष बैठेंगे। बाकी के दो मंचों पर पार्टी के विशिष्ट पदाधिकारी बैठेंगे।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष राहुल सिन्हा ने बताया कि पार्टी की ओर से मोदी को भाषण के लिए जो मुद्दे भेजे गए हैं उनमें नेताजी की गुशुदगी का रहस्य, बांग्लादेश से आने वाले हिंदू शरणार्थी, राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति और महिलाओं के खिलाफ बढ़ता अत्याचार प्रमुख हैं।

सुरक्षा के लिहाज से पूरे ब्रिगेड मैदान में तीस से अधिक कैमरे लगाए गए हैं। इसके अलावा छह वाच टावर भी बनाए गए हैं। इससे रैली के दौरान किसी संदिग्ध हरकत पर निगरानी रखी जाएगी। पुलिस ने बताया कि खोजी कुत्ते व बम निरोधी दस्ते की मदद से पूरे मैदान के चारों तरफ रविवार रात से ही निगरानी रखी जा रही है। पूरे ब्रिगेड मैदान में पांच सौ पुलिसवाले तैनात कर दिए गए हैं। ब्रिगेड मैदान के आसपास की बहुमंजिली इमारत पर मंगलवार से ही पुलिस के जवानों को तैनात कर दिया गया है।

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?