मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
आदिवासी युवती के साथ सामूहिक बलात्कार मामले में हटाए गए एसपी PDF Print E-mail
User Rating: / 1
PoorBest 
Friday, 24 January 2014 09:33

जनसत्ता ब्यूरो व एजंसी

सूरी/दार्जिलिंग/नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल के लाभपुर में एक आदिवासी युवती के साथ सामूहिक बलात्कार मामले में 13 आरोपियों की हिरासत नहीं मांगे जाने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को बीरभूम जिले के पुलिस अधीक्षक सी सुधाकर को हटा दिया।

इस बीच घटना को लेकर काफी रोष जताए जाने के बीच मुख्यमंत्री ने सुधाकर को हटाने का आदेश दिया। ममता ने यह आदेश बोलपुर के एसडीजेएम पी घोष के 13 आरोपियों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के कुछ ही घंटों बाद दिया।

 

बोलपुर के अनुमंडल न्यायिक मजिस्ट्रेट (एसडीजेएम) पी घोष ने आरोपियों की जमानत याचिकाओं को खारिज करते हुए उन्हें दो सप्ताह के लिए जेल भेज दिया। बीस साल की युवती का दूसरे समुदाय के एक व्यक्ति के साथ प्रेम संबंध होने पर दंडित करने के लिए लाभपुर की खाप पंचायत ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार का आदेश दिया था। लाभपुर कोलकाता से करीब 200 किलोमीटर दूर है। पीड़िता ने कहा कि जिन लोगों ने उसके साथ बलात्कार किया, उनमें से कई उसके पिता की उम्र के थे। युवती ने कहा कि ग्राम प्रधान के आदेश के बाद कम से कम 13 लोगों ने उसके साथ लगातार बलात्कार किया। उनमें से कुछ सदस्य एक ही परिवार के थे। युवती को जिस अस्पताल में


भर्ती कराया गया है, उस अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि उसका कुछ परीक्षण किया गया है और अब उसकी हालत स्थिर है।

सूत्रों ने बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारी से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा। यह मामला नए सिरे से लिया जाएगा ताकि पुलिस आरोपियों को हिरासत में दिए जाने की मांग कर सके। महिला व बाल कल्याण मंत्री शशि पांजा ने पीड़िता से फोन पर बातचीत की और कहा कि सभी मेडिकल परीक्षण किए गए हैं। दिल्ली में सूचना व प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी ने राज्य सरकार से दोषियों को सख्त से सख्त सजा तय करने को कहा। पश्चिम बंगाल महिला आयोग की अध्यक्ष सुनंदा गोस्वामी ने कहा कि जिला अधीक्षक से मामले की जांच करने और दस दिन के भीतर आयोग को रिपोर्ट सौंपने को कहा जाएगा। तृणमूल कांग्रेस के महासचिव मुकुल रॉय ने कहा-सरकार दृढ़ है और वह इस जघन्य अपराध को अंजाम देने वाले दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के पक्ष में है।

 

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?