मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
कतर पर टिप्पणी से फीफा की आलोचना PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Friday, 10 January 2014 13:37

पेरिस। फीफा महासचिव जेरोम वाल्के के कतर में 2022 में होने विश्व कप फुटबाल को सर्दियों में करवाने के बयान की कड़ी आलोचना की गई।

 

वाल्के के बयान से फीफा ने तुरंत ही पल्ला झाड़ दिया लेकिन इससे आलोचक चुप नहीं हुए।

फुटबाल बेवसाइट के अनुसार यूएफा अध्यक्ष माइकल प्लाटिनी ने तुरंत ही इस पर कड़ा रवैया अपनाया और विश्व फुटबाल संस्था की इस तरह की टिप्पणी करने के लिए आलोचना की।

यूएफा अध्यक्ष होने के प्लाटिनी फीफा कार्यकारिणी में भी शामिल हैं जिसके अध्यक्ष फीफा प्रमुख सेप ब्लाटर हैं।

प्लाटिनी ने फ्रांसीसी समाचार पत्र ‘लि इनक्विप’ से कहा, ‘‘अक्तूबर में पिछली कार्यकारिणी में फैसला किया गया था कि पूरे फुटबाल जगत में इस पर गंभीर मंत्रणा होनी चाहिए और 2014 विश्व


कप से पहले कोई फैसला नहीं किया जाना चाहिए। इसके अलावा यह भी फैसला किया गया था कि तब तक इस पर किसी को बयान नहीं देना चाहिए। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए यह मेरी समझ से परे कि फिर इस पर सार्वजनिक रूप से चर्चा क्यों की गई। दो महीने पहले ब्लाटर ने इस बारे में बात की और इस बार वाल्के ने जबकि इस पर फैसला फीफा कार्यकारिणी को करना है। लेकिन यदि पहले ही फैसला कर लिया गया है तो फिर बैठक की कोई जरूरत नहीं है। ’’

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?