मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
कांग्रेस के नेता ‘‘सेकुलर टुरिज़म’’ कर रहे हैं : भाजपा PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 24 December 2013 15:39

नई दिल्ली। भाजपा ने आज कांग्रेस पर दंगा प्रभावित उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में ‘‘सेकुलर टुरिज़म’’ करने का आरोप लगाने के साथ समाजवादी पार्टी के उस बयान की कड़ी आलोचना की जिसमें कहा गया है कि राहत शिविरों में अब कोई दंगा पीड़ित नहीं रह गया है।

 

भाजपा ने कहा कि सपा प्रमुख मुलायम सिंह का यह बयान बहुत ही आपत्तिजनक है कि राहत शिविरों में दंगा प्रभावित नहीं बल्कि एक राजनीतिक दल के लोग रह रहे हैं। उसने कहा कि अगर ऐसा है तो वह उस पार्टी का नाम बताएं।

पार्टी के उपाध्यक्ष मुख्तार अब्बास नकवी ने यहां कहा कि सपा प्रमुख का यह बयान ‘‘दंगों में मारे गए लोगों के परिजनों की भावनाओं के साथ खेलने जैसा है।’’

उन्होंने कहा ऐसे बयान और ऐसी भाषा का प्रयोग करना सपा के नेताओं की ‘‘मानसिकता’’ को दर्शाता है।

नकवी ने आरोप लगाया कि सपा घोर साम्प्रदायिक राजनीति का खेल खेल रही है। उन्होंने कहा कि दंगा से प्रभावित लोगों के जख्मों पर मरहम लगाने की बजाय ये दल उन पर नमक छिड़क रहे हैं।

कांग्रेस नेताओं के बार बार मुजफ्फरनगर राहत शिविरों के दौरे करने की भी आलोचना करते हुए भाजपा नेता ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति के तहत एक खास समुदाय का समर्थन पाने की कवायद में ऐसा किया जा रहा है।

राहुल गांधी के ऐसे शिविरों


का अचानक मुआयना करने पंहुचने पर नकवी ने कटाक्ष किया कि कांग्रेस के नेता ‘‘लांग हालिडे ड्राइव’’ के मजे ले रहे हैं।

नकवी ने कहा, ‘‘कांग्रेस पार्टी और उसके नेता, जब उनका छुट्टी का मन होता है तो वे लंबी सैर पर निकल जाते हैं। इस हॉलिडे लांग ड्राइव पर वे इस बार मुजफ्फरनगर पंहुच गए।। कुछ महीना पहले पूरा परिवार सेकुलर टुरिज़म पर वहां जा चुका था।’’

सपा प्रमुख ने कल विवादास्पद बयान में यह दावा किया कि मुजफ्फरनगर के राहत शिविरों में कोई दंगा प्रभावित नहीं रह गया है और उत्तर प्रदेश सरकार और सपा की छवि खराब करने के इरादे से उन शिविरों में केवल कांग्रेस और भाजपा के समर्थक रह रहे हैं।

मुलायम सिंह ने कहा, ‘‘शिविरों में कोई दंगा पीड़ित नहीं है। एक भी नहीं है। आप पड़ताल कर सकते हैं। जो लोग हैं वे षडयंत्रकारी हैं। भाजपा और कांग्रेस षडयंत्र कर रहे हैं। वे लोगों से कह रहे हैं कि वे रात में वहां (शिविरों में) रहें और धरना दें। यह षडयंत्र है।’’

उनके अनुसार ‘‘वे (दंगा पीड़ित) सब चले गए हैं। कांग्रेस और भाजपा उन्हें उकसा रहे हैं।’’

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?