मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
उत्तर भारत कड़ाके की ठंड की चपेट में PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Sunday, 22 December 2013 09:39

नई दिल्ली। उत्तर भारत कड़ाके की ठंड की चपेट में है। जम्मू कश्मीर में सर्वाधिक कड़ाके की सर्दी वाली अवधि शनिवार से शुरू  हो गई है जबकि मैदानी इलाके सर्द हवाओं की गिरफ्त में हैं।

घने कोहरे की चादर ने उत्तरवर्ती क्षेत्र के मैदानी इलाकों को लपेट रखा है। इससे हवाई और रेल यातायात प्रभावित हो रहा है जबकि कश्मीर घाटी के ऊपरी इलाकों और हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी हुई।

 

दिल्ली में शनिवार को आसमान में बादल छाए रहे। यहां ठिठुराने वाली ठंड रही और कोहरा छाया रहा। शहर में दिन का तापमान 15.9 डिग्री जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 12.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दिल्ली में इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कोहरे की चादर छाई रही लेकिन उड़ानें बाधित नहीं हुईं।

जम्मू कश्मीर में लोगों को सुबह कड़ाके की ठंड का सामना करना पड़ा। शीतलहर ने घाटी पर अपनी पकड़ और बना ली। गुलमर्ग, पहलगाम, सोपियां, जवाहर सुरंग और सोनमर्ग समेत घाटी के अन्य ऊपरी क्षेत्रों से बर्फबारी की खबरें हैं। पंजाब और हरियाणा के मैदानी इलाकों में कोहरे के कारण सामान्य जनजीवन बाधित है। हवाई और ट्रेन सेवाएं प्रभावित हुई हंै। क्षेत्र में अगले 24 घंटों में हल्की बारिश या गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान है। पंजाब में अमृतसर में 9.5 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। यह सामान्य से पांच डिग्री ऊपर है। लुधियाना और पटियाला में क्रम से 9.4 और 10.1 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा। अंबाला और हिसार में क्रम से 9.5 डिग्री और 11.2 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया। चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 7.4 डिग्री सेल्सियस रहा। हिमाचल


प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में हाड़ कंपाने वाली ठंड पड़ रही है। वहां क्रिसमस के लिए बड़ी तादाद में पर्यटक जुटने लगे हैं। राज्य के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी और शीतलहर तेज हो गई है। जनजातीय जिले लाहौल स्पीति के केलांग और काल्पा में क्रम से शून्य से 8.2 डिग्री और पांच डिग्री नीचे तापमान दर्ज किया गया। मनाली और भुंतर में क्रम से शून्य से 2.4 डिग्री कम और 0.5 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा।

राजस्थान में कई स्थानों पर कुहासा छाया रहा। वहां का न्यूनतम तापमान और गिरा। राज्य में माउंटआबू सर्वाधिक ठंडा स्थान रहा। वहां न्यूनतम तापमान शून्य से एक डिग्री कम दर्ज किया गया। बीकानेर में तीन डिग्री तापमान दर्ज किया गया। बाड़मेर, कोटा, जैसलमेर और जोधपुर में क्रम से 7, 7.2, 7.4 और 8.4 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया।

घने कोहरे की वजह से ट्रेनों का परिचालन शनिवार को भी बाधित रहा। 40 से ज्यादा ट्रेनें अपने निर्धारित समय से कई घंटे तक विलंब से चलीं। इनमें से ज्यादातर दिल्ली को आने वाली ट्रेनें थीं।

कोलकाता, पटना और भुवनेश्वर राजधानी कई घंटे की देरी से चलीं वहीं कोहरे के कारण कानपुर शताब्दी भी विलंबित हुई। उत्तर रेलवे के आंकड़ों के अनुसार लिच्छवी एक्सप्रेस और फरक्का एक्सप्रेस 15 घंटे की देरी से चल रही हैं जबकि ब्रह्मपुत्र मेल और मगध एक्सप्रेस में क्रम से 13 और 10 घंटे की देर हुई।

 

 

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?