मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
बिहार में शिक्षा, पर्यटन, पर्यावरण, विज्ञान एवं सामाजिक अध्ययन के क्षेत्र में सहयोग करना चाहता है फ्रांस PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 03 December 2013 23:16

पटना। फ्रांस बिहार में शिक्षा, पर्यटन, पर्यावरण, विज्ञान एवं सामाजिक अध्ययन के क्षेत्र में सहयोग करना चाहता है।

भारत में फ्रांस के राजदूत फ्रांकोइस रिचर ने आज शाम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से उनके सचिवालय स्थित कार्यालय कक्ष में मुलाकात की और मुख्यमंत्री को बताया कि फ्रांस और बिहार के बीच सहयोग एवं मैत्री की संभावनायें अत्यधिक है। फ्रांस बिहार में शिक्षा, पर्यटन, पर्यावरण, विज्ञान एवं सामाजिक अध्ययन के क्षेत्र में सहयोग करना चाहता है।

रिचर ने मुख्यमंत्री को बताया कि विगत बीस वर्षों के भीतर वे फ्रांस के पहले राजदूत है जिन्होंने बिहार की यात्रा की है।

उन्होंने कहा कि बिहार में हो रहे विकास बदलाव के बारे में बहुत कुछ सुन रखा था और पढा था। आज यहां आना और इस प्रदेश में हो रहे विकास एवं बदलाव को देखकर काफी प्रसन्नता हुयी है।

रिचर ने मुख्यमंत्री को बताया कि उन्हें यह जानकर भी काफी प्रसन्नता है कि नालंदा अन्तरराष्ट्रीय विश्वविदयालय पुन: स्थापित हो रहा है।

उन्होंने बताया कि फ्रांस के शिक्षण संस्थान छात्र और शिक्षकों के स्तर पर विचार के आदान-प्रदान के लिए नालंदा इंटरनेशनल विश्वविद्यालय और पटना के नेशनल इंस्टिच्यूट


ऑफ टेक्नॉलॉजी को चिन्हित किया गया है।

रिचर ने बताया कि फ्रांस के शोध विद्यालय ईएफईओ ने नालंदा इंटरनेशनल विश्वविद्यालय के साथ एक समझौता पत्र पर हस्ताक्षर किया था।

उन्होंने कहा कि इस प्रकार का एक समझौता पत्र पटना के नेशनल इंस्टिच्यूट ऑफ टेक्नॉलॉजी के साथ कल किया जाएगा।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने फ्रांस के राजदूत का स्वागत करते हुए कहा कि बिहार ज्ञान विज्ञान की धरती रही है यहां धार्मिक ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक महत्व की अनेक धरोहर हैं। उन्होंने इस अवसर पर बिहार के सांस्कृतिक एवं पर्यटन स्थलों की भी जानकारी दी।

मुख्यमंत्री ने फ्रांस के राजदूत को अशोक स्तम्भ का प्रतीक चिहन एवं मधुबनी पेटिंग की हुई एक शाल भेंटकर सम्मानित किया। दो दिवसीय बिहार दौरे पर आए रिचर ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बहुत साकारात्मक व्यक्ति बताया।

रिचर अपने बिहार यात्रा के क्रम में कल बोधगया गए थे और बौद्ध स्थलों का दौरा किया।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?