मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
काला धन: स्विस बैंकों को विदेशी ग्राहकों पर निगरानी बढ़ाने का निर्देश PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 03 December 2013 21:46

जिनिवा, नई दिल्ली। काले धन के प्रवाह पर अंकुश लगाने के इरादे से स्विटजरलैंड ने बैंकों को विदेशी ग्राहकों के मामले में जांच व्यवस्था दुरूस्त करने के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय कर नियमों का कड़ाई से अनुपालन करने को कहा है।

स्विटजरलैंड कर मामलों में भारत अन्य देशों के साथ सूचनाओं के स्वत: आदान-प्रदान व्यवस्था पर सहमति होने के मद्देनजर स्विस सरकार का यह निर्देश आया है।

सरकार ने बैंकों तथा अन्य वित्तीय संस्थानों को काले धन के प्रवाह को रोकने के लिए संपत्ति स्वीकार करते समय उसकी जांच बढ़ाने को कहा है।

स्विट्जरलैंड बैंकिंग गोपनीयता के लिए चर्चित है और यह माना जाता है कि वह काले धन का सुरक्षित पनाहगाह है।

स्विस सरकार ने पिछले सप्ताह बयान में कहा, ‘‘जांच व्यवस्था खासकर उन देशों के मामले में बढ़ाए जाने की जरूरत है जिनके साथ इस


प्रकार का समझौता नहीं है।’’

इस बीच, स्विस बैंकर्स एसोसिएशन (एसबीए) ने भी बैंक को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा है कि देश में काले धन का प्रवाह न हो और इसके लिए कदम सुझाये हैं।

एसबीए की सिफारिशों के अनुसार बैंकों से ऐसी किसी भी संपत्ति को स्वीकार नहीं करने को कहा गया है जहां उन्हें पता है कि इस पर कर का भुगतान नहीं किया गया है।

एसोसिएशन ने बयान में कहा, ‘‘ग्राहकों के मामले में जांच व्यवस्था और दुरूस्त करने के साथ बैंकों को यह सुनिश्चित करना है कि ग्राहक..... बिना कर का भुगतान किए संपत्ति स्विटजरलैंड नहीं लाए।’’

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?