मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
‘आप’ का दिवास्वप्न आठ दिसंबर को टूट जाएगा, वोट देना व्यर्थ : भाजपा PDF Print E-mail
User Rating: / 2
PoorBest 
Monday, 02 December 2013 16:57

नई दिल्ली। दिल्ली समेत पूरे देश में जबर्दस्त कांग्रेस विरोधी लहर चलने का दावा करते हुए भाजपा ने आज कहा कि

दिल्ली की जनता कांग्रेस को हराने और भाजपा को जिताने का मन बना चुकी है और आम आदमी पार्टी (आप) का दिवास्वप्न 8 दिसंबर को टूट जाएगा।

 

भाजपा की सुषमा स्वराज और अरूण जेटली ने यहां संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में दावा किया, ‘‘ दिल्ली तथा देश में कांग्रेस विरोध की जदर्बस्त लहर चल रही है और लोगों ने भ्रष्ट कांग्रेस को हराने और भाजपा को जीताने का मन बना लिया है।’’

सुषमा ने कहा, ‘‘ मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में चुनाव हो चुके हैं और वहां से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार भाजपा तीनों जगह जीत रही है और चार दिसंबर को चुनाव के बाद दिल्ली में भी भाजपा की सरकार बनने का मार्ग प्रशस्त होगा।’’

‘आप’ के सरकार बनाने के दावे पर चुटकी लेते हुए लोकसभा में विपक्ष की नेता ने कहा, ‘‘लोग ‘आप’ पार्टी के लिए अपना वोट व्यर्थ नहीं करेंगे। ‘आप’ का 40-50 सीट जीतने का दावा ‘दिवास्वप्न’ है जिससे आठ दिसंबर को चुनाव परिणाम आने के साथ ही मुक्ति मिल जायेगी और भाजपा की सरकार बनेगी।’’

सुषमा ने कहा कि किसी भी राज्य में जब मतदाता एक पार्टी को हराने का मन बना लेते हैं तब दूसरी पार्टी को जीताने का भी मन बना लेते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं होता कि वह


अपना वोट खराब करेगी।

जेटली ने कहा कि अब स्पष्ट हो गया है कि दिल्ली में हारने वाली पार्टी कौन है। राज्य में हारने वाली पार्टी कांग्रेस है। अब सवाल यह है कि भाजपा को कितना बहुमत मिलेगा तथा ‘आप’ कोई उपस्थिति भी दर्ज करा पाएगी या नहीं।

जेटली ने कहा कि राजनीति में हार जीत तो होती रहती है लेकिन कांग्रेस पार्टी ने तो प्रयास ही छोड़ दिया है । दिल्ली में सरकार विरोधी लहर इतनी तीव्र है कि कांग्रेस के लिए अपने को बचा पाना अत्यंत ही कठिन हो गया है।

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी केवल मीडिया में ही दिखती है। ‘‘ पार्टी की शक्ति और मीडिया उपस्थिति में काफी अंतर होता है। हमें नहीं लगता कि वह सीट जीत पाएगी।’’

राज्यसभा में विपक्ष के नेता ने कहा कि भाजपा दिल्ली में अच्छे बहुमत से सरकार बनाएगी।

भाजपा नेताओं ने दावा किया कि कांग्रेस के खिलाफ जनमत, भाजपा के पक्ष में लहर, पार्टी का एकजुट होना और पार्टी का उत्तम बूथ प्रबंधन हमारी जीत सुनिश्चित करता है।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?