मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
राजस्थान में 74 फीसद से ज्यादा मतदान PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Sunday, 01 December 2013 09:38

राजीव जैन

जयपुर। राजस्थान में अगली सरकार के लिए

रविवार को 74 फीसद से ज्यादा मतदान हुआ। प्रदेश में छिटपुट घटनाओं को छोड़ मतदान शांतिपूर्ण रहा। इसके साथ ही चुनाव लड़ रहे कांग्रेस, भाजपा व अन्य दलों के दिग्गज नेताओं के राजनीतिक भविष्य का निर्णय वोटिंग मशीनों में कैद हो गया।

 

 

राज्य में विधानसभा के लिए रविवार को भारी मतदान होने से राजनीतिक हलकों में गरमी आ गई है। राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी अशोक जैन ने बताया कि प्रदेश की चौदहवीं विधानसभा के गठन के लिए दो सौ में से 199 विधानसभा सीटों के लिए कुल 74.38 फीसद मतदान हुआ। चूरू  विधानसभा सीट से बसपा उम्मीदवार की मृत्यु होने के कारण वहां 13 दिसंबर को मतदान होगा। प्रदेश के संवेदनशील जिलों दौसा, अलवर, भरतपुर, सवाई माधोपुर के साथ ही सीकर, झुंझनूं जिलों में दो पक्षों में तनाव की घटनाएं हुई। पुलिस और सुरक्षा बलों ने मौके पर पहुंचकर स्थिति संभाली।

चुनाव विभाग के मुताबिक दौसा और अलवर जिले के कुछ मतदान केंद्रों पर उपद्रव की घटनाएं हुई। अलवर के रैणी केंद्र पर उपद्रव करने वाले तत्वों को भगाने के लिए सुरक्षा बलों को फ ायरिंग करनी पड़ी। भरतपुर और सवाई माधोपुर जिलों के कई केंद्रों पर दबंगों ने मतदान केंद्रों पर कब्जा करने के प्रयास किए। प्रशासन ने सूचना मिलते ही इन केंद्रों पर पहुंच कर अराजक तत्वों को हिरासत में लिया। अजमेर जिले में केकड़ी सीट के एक प्रत्याशी से मारपीट की घटना हुई। झुंझनूं जिले की कुछ सीटों पर भी उम्मीदवारों के समर्थकों के बीच मारपीट की घटनाएं हुई। सीकर जिले के फतेहपुर में उपद्रवी भीड ने एक वाहन को आग लगा दी। जयपुर के आदर्शनगर इलाके में समर्थकों के बीच टकराव हुआ। इस इलाके के एक मतदान केंद्र में दो पक्षों के बीच हाथापाई के बाद गोली चलने की घटना भी हुई। उपद्रवी भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ीं। पुलिस ने गोली चलने की घटना से इनकार किया है।

बीकानेर के कोलायत इलाके में मतदानकर्मियों के साथ मारपीट की घटनाएं हुईं। इसके साथ ही उदयपुर में भी उम्मीदवारों के समर्थकों के बीच तीखी झड़पों में एक कार्यकर्ता के जख्मी होने की जानकारी भी है। पाली के अलावा ब्यावर में भी छिटपुट वारदात की सूचना चुनाव विभाग तक पहुंची है। राज्य भर में कई इलाकों में वोटिंग मशीन में तकनीकी खराबी की शिकायतें भी खूब आई। प्रदेश के तमाम बडेÞ नेताओं ने अपने अपने इलाकों में वोट डाले। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने परिवार के सदस्यों के साथ जोधपुर के सरदारपुरा में वोट डाला।


प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वसुंधरा राजे ने झालावाड़ में अपने वोट का इस्तेमाल किया। वोटों की गिनती 8 दिसंबर को होगी। उससे ही मालूम चलेगा कि प्रदेश की जनता अगली सरकार किसकी चाहती है।

इस बीच प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी अशोक जैन के समक्ष भरतपुर जिले के नगर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा व विधानसभा क्षेत्र सवाईमाधोपुर में राजपा के कार्यकर्ताओं की ओर से मतदान केंद्रों पर कब्जा करने की शिकायत की है।

कांगे्रस की विधि समिति के अध्यक्ष सुशील शर्मा ने जैन को भेजे फैक्स में कहा है कि भाजपा के पोलिंग एजंट मतदान केंद्रों में भाजपा का चुनाव चिन्ह लेकर बैठे हैं और मतदान अधिकारी चुनाव आयोग की ओर से वितरित वोटर स्लिप को स्वीकार नहीं कर रहे हैं।

पार्टी ने विधानसभा क्षेत्र जैतारण के बूथ नं. 117, 118, 119, 120 से कांग्रेस के एजंटों को बाहर निकालने पर कार्यवाही करने के सम्बन्ध में राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के यहां फैक्स व ई-मेल कर शिकायत दर्ज करवाई है।

शर्मा ने शिकायत में कहा है कि भरतपुर जिला नगर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा उम्मीदवार अनिता सिंह व विधानसभा क्षेत्र सवाईमाधोपुर में राजपा के कार्यकर्ताओं ने मतदान केंद्र पर कब्जा कर लिया। उन्होंने बताया कि मालवीय नगर विधानसभा क्षेत्र के मतदान संख्या 104, 105, 106 मीरा पब्लिक स्कूल, करतारपुरा, जयपुर में मतदान अधिकारियों की ओर से चुनाव आयोग द्वारा वितरित फोटो सहित स्लिप (मतदाता पर्ची) को नहीं मान रहे है और वोटर आईडी मांग रहे हैं, जो चुनाव आयोग के दिशा-निर्देशों के खिलाफ है। इस कारण क्षेत्र में तनाव की स्थिति बनी हुई है।

निर्वाचन विभाग प्रवक्ता के मुताबिक प्रदेश में सबसे अधिक 77.50 फीसद मतदान जैसलमेर में हुआ। उन्होंने बताया कि हनुमानगढ़ में 74.14, झालावाड़ में 73.50, बासंवाडा में 69, अजमेर में 63, अलवर में 68, बारां में 68, बाड़मेर में 68, भरतपुर में 63 और भीलवाड़ा में 66 फीसद मतदान हुआ।

जबकि बीकानेर में 65, बूंदी में 63, चितौडगढ़ में 70, चूरू  में 66, दौसा में 59, धौलपुर में 68, डूंगरपुर में 65, श्रीगंगानगर में 72, जयपुर में 64, जालौर में 58, झुंझुनूं में 65, जोधपुर में 57, करौली में 61, कोटा में 64, नागौर में 60, पाली में 46, प्रतापगढ़ में 68, राजसमंद में 65, सवाई माधोपुर में 62, सीकर में 65, सिरोही में 61, टोंक में 61 और उदयपुर जिले में 63 फीसद से अधिक मतदान हुआ है।

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?