मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
‘अगर ब्याज की बड़ी राशि नहीं चुकानी होती तो दस लाख नौकरियों का सृजन होता’ PDF Print E-mail
User Rating: / 1
PoorBest 
Wednesday, 27 November 2013 17:58

रायगंज (पश्चिम बंगाल)। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आज कहा कि अगर पूर्ववर्ती वाम मोर्चा की सरकार के समय लिए गए ऋण पर केंद्र को ब्याज की बड़ी राशि का भुगतान नहीं किया गया होता तो पश्चिम बंगाल में बड़े पैमाने पर रोजगार का सृजन हुआ होता।

उन्होंने कहा, ‘‘2011-12 में केंद्र और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ब्याज के रूप में 21 हजार करोड़ रूपए ले गए वहीं 2012-13 में 25 हजार करोड़ रूपया चुकाया गया जबकि आय


32 हजार करोड़ रूपए की हुई थी ।’’

बनर्जी ने कहा, ‘‘मुझे बताया गया कि इस वित्त वर्ष में वे 28 हजार करोड़ रूपए लेंगे ।’’

उन्होंने कहा, ‘‘अगर इतनी बड़ी राशि का भुगतान ब्याज के रूप में नहीं किया जाता तो हम अपने राज्य में 10 लाख लोगों के लिए रोजगार का सृजन करते।’’

(भाषा)

 

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?