मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
वीर नहीं, घोषणावीर हैं शिवराज सिंह : ज्योतिरादित्य सिंधिया PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Sunday, 17 November 2013 12:32

इंदौर। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ‘घोषणावीर’ करार देते हुए केनद्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सूबे की भाजपा सरकार के विकास के दावों पर सवाल खड़े किए और कहा कि सच्चे वीर कभी कोरी घोषणाएं नहीं करते।

सिंधिया ने कल रात यहां छावनी चौराहे पर कांग्रेस की चुनावी सभा में कहा, ‘वह (शिवराज) कहते हैं कि घोषणाएं तो वीर ही करते हैं। लेकिन मैं कहता हूं कि सच्चे वीर कभी कोरी घोषणाएं नहीं करते।’

कांग्रेस की विधानसभा चुनाव समिति के अध्यक्ष ने कहा, ‘जो सच्चे वीर होते हैं, वे असंभव कार्य को भी संभव बना देते हैं। वे घोषणाओं का पुलिंदा तैयार नहीं करते, बल्कि जनता के संकटमोचक बनकर सामने आते हैं।’

सिंधिया ने प्रदेश की भाजपा सरकार पर भारी भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि इस सरकार ने पिछले 10 साल में सूबे का भट्ठा बैठा दिया है।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा, ‘प्रदेश में कानून-व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। राज्य में महिलाओं और बच्चों के साथ साथ शिक्षक, आरटीआई कार्यकर्ता और पुलिस अफसर तक सुरक्षित नहीं हैं।’

सिंधिया ने कहा, ‘अगर तवे पर रोटी को वक्त रहते पलटा नहीं जाता है, तो वह जल जाती है। आप (मतदाता) 25 नवंबर को होने वाले


विधानसभा चुनावों में रोटी को पलट दीजिए और इस बार कांग्रेस को सत्ता में पहुंचाइए।’

उधर, प्रदेश में लगातार तीसरी बार भाजपा की सरकार बनाने की चुनौती का सामना कर रहे शिवराज ने कल रात चितावद में चुनावी सभा में कांग्रेस पर जमकर हमला बोला।

उन्होंने कहा, ‘प्रदेश में कांग्रेस टूट चुकी है और मुझे मुख्यमंत्री पद से हटाने के प्रपंच में लगी हुई है। कांग्रेस पिछले 10 साल से विपक्ष में बैठी है और इस बार विधानसभा चुनाव जीतकर प्रदेश को भ्रष्टाचार के जरिए लूटने का सपना देख रही है।’

शिवराज ने भाजपा सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा, ‘हमारी सरकार ने पिछले 10 साल में जो काम किए, वे कार्य कांग्रेस की सरकारें गुजरे 50 साल में भी नहीं कर सकीं।’

मुख्यमंत्री ने भाजपा के चुनावी घोषणापत्र ‘जन संकल्पपत्र’ के हवाले से कहा कि पार्टी लगातार तीसरी बार सत्ता में आने पर प्रदेश के पांच लाख युवाओं को स्वरोजगार दिलाएगी। इसके साथ ही, मध्यम वर्ग के उत्थान के लिए आयोग का गठन करेगी।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?