मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
शांति की बहाली के लिए पाकिस्तान को देंगे ‘संदेह का लाभ’: सलमान खुर्शीद PDF Print E-mail
User Rating: / 1
PoorBest 
Monday, 11 November 2013 17:29

मेलबर्न। विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा है कि भारत पाकिस्तान को ‘संदेह का लाभ’ देने को तैयार है क्योंकि नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम के बार-बार उल्लंघनों के बीच दोनों पडोसी देश शांति की बहाली चाहते हैं।

 

खुर्शीद ने कहा, ‘‘जब (पाकिस्तान के प्रधानमंत्री) नवाज शरीफ कहते हैं कि वे भारत के साथ शांतिपूर्ण और अच्छे संबंध चाहते हैं तो हम उनका यह वादा स्वीकार करते हैं।’’

लेकिन खुर्शीद ने कहा कि वह उनके (शरीफ) शब्दों के साथ हाल के समय में नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम के बार-बार उल्लंघनों का सामंजस्य नहीं बैठा सकते।

‘द ऑस्ट्रेलियन’ अखबार को दिए साक्षात्कार में खुर्शीद ने कहा, ‘‘हम समय-समय पर पाकिस्तान से बात करते रहते हैं और निजी भाव-भंगिमाओं में हमें काफी गर्मजोशी दिखाई पड़ती है।’’

खुर्शीद ने कहा कि पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी, खासकर लश्कर ए तैयबा के उत्तराधिकारी लगातार हमले कर रहे हैं और कश्मीर तथा अन्य भागों में भारतीय नागरिकों की हत्या कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने कश्मीर में बेहतर व्यवस्थाओं के लिए शीर्ष स्तरीय सैन्य


बैठकों के अपने वादे का अब तक पालन नहीं किया है। अगर वे आतंकवाद के ढांचे को ध्वस्त करने पर गौर करें तो यह अच्छी शुरूआत होगी।

इस साल जनवरी में सीमापार से शुरू हुई गोलीबारी अगस्त में उस समय तेज हो गई जब पाकिस्तानी बलों ने जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर एक हमले में भारत के पांच सैनिकों की हत्या कर दी थी।

सितंबर में न्यूयार्क में बैठक के दौरान भारत और पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इस बात पर सहमत हुए थे कि सैन्य अभियानों के महानिदेशक नियंत्रण रेखा पर तनाव कम करने के तरीकों पर गौर करने के लिए मिलेंगे। हालांकि यह बैठक अब तक नहीं हो सकी और दोनों पक्षों ने इसके लिए कोई तारीख तय नहीं की है।

(भाषा)

 

 

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?