मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
दुनिया के सबसे ताकतवर सिख माने गए मनमोहन सिंह PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Sunday, 10 November 2013 16:28

लंदन। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को दुनिया के 100 सबसे शक्तिशाली सिखों की सूची में शीर्ष पर रखा गया है।

सिख डायरेक्टरी नामक संस्था ने पहले वार्षिक प्रकाशन ‘सिख 100’ में प्रधानमंत्री को सबसे ऊपर रखा है। यह सूची सबसे प्रभावशाली समकालीन सिखों की है। इसमें कहा गया है कि 81 वर्षीय सिंह ‘एक विचारक और विद्वान के तौर पर बहुत प्रतिष्ठित हैं।’

सिंह का परिचय देते हुए कहा गया है, ‘‘उन्हें काम के प्रति उनकी लगन और शैक्षणिक दृष्टिकोण के साथ उनकी पहुंच एवं विनम्र व्यवहार लिए काफी सम्मान दिया जाता है।’’

बीती रात जारी इस सूची में योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया (69) को दूसरा सबसे ताकतवर सिख बताया गया है।

श्री अकाल तख्त साहिब के मौजूदा प्रमुख जत्थेदार सिंह साहिब गियानी गुरबचन सिंह को सूची में तीसरा स्थान दिया गया है। पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल को चौथा सबसे ताकतवर सिख करार दिया गया है।

मास्टरकार्ड वर्ल्डवाइड के अध्यक्ष एवं सीईओ अजयपाल सिंह बग्गा को सूची में आठवें और ब्रिटेन में रॉयल कोर्ट ऑफ जस्टिस के न्यायाधीश रूबिंदर सिंह को नौंवे स्थान पर रखा गया है।

विश्व के सबसे ताकतवर सिखों की सूची में प्रधानमंत्री की पत्नी गुरशरण कौर को 13वें और पंजाब के उप मुख्यमंत्री


सुखबीर सिंह बादल को 14वां स्थान मिला है।

इस सूची में ब्रिटेन में न्यायाधीश सर मोटा सिंह (17वां), अमेरिका में होटल व्यवसायी संत सिंह चटवाल (18वां), फोर्टिस हेल्थकेयर के प्रमुख एवं निर्देशक मालविंदर तथा शिविंदर सिंह (21वां) और मशहूर पत्रकार खुशवंत सिंह (22वां) को जगह दी गई है।

अपोलो टायर के प्रमुख ओंकार सिंह कंवल को 23वां, पंजाब नेशनल बैंक के प्रबंधन निदेशक भूपिंदर सिंह को 26वां, क्रिकेटर हरभजन सिंह को 28वां, पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को 29वां, ब्रिटेन स्थित संगठन नेटवर्क ऑफ सिख आर्गनाइजेशंस के निदेशक लॉर्ड इंदरजीत सिंह को 42वां, सन मार्क लिमिटेड (यूके) के प्रमुख रमी रंगेर को 48वां और विटाबायटोक्सि (यूके) के निदेशक करतार सिंह लालवानी को 52वां स्थान दिया गया है।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?