मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
बातचीत नहीं बल्कि सख्ती से निपटा जाता है दंगों से : मुलायम सिंह यादव PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Thursday, 07 November 2013 21:47

मैनपुरी। कानून-व्यवस्था को लेकर सार्वजनिक मंचों पर कई बार अपने पुत्र अखिलेश यादव की सरकार की कथित आलोचना कर चुके समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने आज मुजफ्फरनगर दंगों को लेकर सरकार की कार्यप्रणाली पर तल्ख टिप्पणी करते हुए ऐसे मामलों से सख्ती से निपटने की हिदायत दी।

यादव ने अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र मैनपुरी में आयोजित सपा की रैली में कहा कि मुजफ्फरनगर में साम्प्रदायिक ताकतें कामयाब हो गईं। कुछ शक्तियां फसाद पैदा करना चाहती हैं लेकिन हम उत्तर प्रदेश को गुजरात नहीं बनने देंगे। प्रदेश में जब भी सपा की सरकार बनती है तो साम्प्रदायिक ताकतें दंगे कराती हैं लेकिन हम उनके मंसूबे कामयाब नहीं होने देंगे।

मुजफ्फरनगर दंगों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा ‘‘अखिलेश और बाकी लोग मंत्रिमण्डल में बैठे हैं। इस तरह की बातों से सख्ती से निपटा जाता


है, बातचीत से नहीं। अगर हमने सख्ती ना की होती तो अयोध्या में मस्जिद गिरा दी गई होती। साम्प्रदायिक शक्तियों से सख्ती से निपटा जाता है बातचीत और ढिलाई से नहीं निपट सकते।’’

सपा प्रमुख ने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी को कोरी चकाचौंध से घिरा राजनेता बताते हुए कहा कि मोदी सिर्फ टेलीविजन तथा गुजरात में दिखाई दे रहे हैं, और कहीं नहीं।

आगामी लोकसभा चुनाव को सपा के लिए महत्वपूर्ण चुनौती बताते हुए यादव ने कहा कि केन्द्र में अब तीसरे मोर्चे की सरकार ही बनेगी। उन्होंने बताया कि इस मोर्चे के गठन की कवायद के तहत पिछले दिनों 17 दलों के नेताओं की बैठक हुई थी।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?