मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
बीसीसीआई ने पुणे वारियर्स का आईपीएल अनुबंध रद्द किया PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Saturday, 26 October 2013 14:54

चेन्नई। आईपीएल की टीम पुणे वारियर्स इतिहास के पन्नों में खो कर रह जाएगी क्योंकि बीसीसीआई ने सहारा के स्वामित्व वाली पुणे वारियर्स का अनुबंध रद्द कर दिया है।

बीसीसीआई के एक शीर्ष अधिकारी ने बताया कि यह फैसला यहां क्रिकेट बोर्ड की शक्तिशाली कार्य समिति की बैठक के दौरान किया गया।

पुणे वारियर्स और बीसीसीआई के बीच टकराव की स्थिति थी क्योंकि बोर्ड ने फ्रेंचाइजी फीस का भुगतान नहीं करने पर बैंक गारंटी भुना ली थी।

सहारा समूह ने इसके बाद आईपीएल से हटने की घोषणा की थी। उसने हालांकि बीसीसीआई का आधिकारिक रूप से जानकारी नहीं दी। बीसीसीआई ने इसके बाद अगले साल लीग का हिस्सा बने रहने के लिए सहारा से 170 . 2 करोड़ रूपए की बैंक गारंटी मांगी थी।

बीसीसीआई ने इसके बाद भुगतान के लिए कई बार सहारा को याद दिलाया और फिर अंतत: उसका आईपीएल अनुबंध रद्द कर दिया।

आज की बैठक में आईपीएल संचालन परिषद के सदस्य भी मौजूद थे जहां बोर्ड ने पुणे वारियर्स को 30 दिन


का अनुबंध रद्द करने का नोटिस जारी किया।

सहारा ने फ्रेंचाइजी फीस से संबंधी मध्यस्थता प्रक्रिया को पूरी करने की मांग की थी। सहारा का मानना था कि फ्रेंचाइजी फीस कम होनी चाहिए क्योंकि बीसीसीआई ने टीम को उतने आईपीएल मैच मुहैया नहीं कराए जितने मैचों का उसने वादा किया था।

बीसीसीआई और सहारा के बीच न्यायधीशों की नियुक्ति को लेकर मतभेद के कारण अब तक मध्यस्थता की प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाई है।

सहारा ने पुणे टीम को 2010 में लगभग 37 करोड़ डालर (लगभग 1702 करोड़ रूपए) में खरीदा था। यह आईपीएल की सबसे महंगी फ्रेंचाइजी थी और इसका अनुबंध रद्द होने से बीसीसीआई को भारी भरकम नुकसान होगा।

(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?