मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
विश्व हिंदू परिषद की अयोध्या संकल्प सभा पर रोक लगाई उप्र सरकार ने PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Tuesday, 15 October 2013 09:20

लखनऊ। उत्तर प्रदेश सरकार ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए विश्व हिंदू परिषद (विहिप) की 18 अक्तूबर को होने वाली संकल्प सभा पर प्रतिबंध लगा दिया है।

इस फैसले पर सख्ती से अमल के लिए रामनगरी को छावनी में तब्दील करने की तैयारी है।
पुलिस महानिरीक्षक (कानून व्यवस्था) राजकुमार विश्वकर्मा ने सोमवार को यहां संवाददाताओं से कहा कि फैजाबाद जिला प्रशासन ने कानून व्यवस्था बिगड़ने की आशंका से 18 अक्तूबर को विहिप की संकल्प सभा पर प्रतिबंध लगाया है। इस पर सख्ती से अमल के लिए भारी तादाद में सुरक्षा बल तैनात किए जा रहे हैं। विश्वकर्मा ने बताया कि विहिप की संकल्प सभा पर लगे प्रतिबंध पर सख्ती से अमल के लिए अयोध्या-फैजाबाद में पांच अपर पुलिस अधीक्षकों, 10 उपाधीक्षकों, 50 निरीक्षकों और उपनिरीक्षकों, 10 महिला उपनिरीक्षकों और 300 सिपाहियों के साथ पीएसी की पांच कंपनियों की अतिरिक्त तैनाती की जा रही है।
विश्वकर्मा ने बताया कि ये तैनातियां फैजाबाद के उपमहानिरीक्षक और लखनऊ के महानिरीक्षक के पास नियमित आधार पर उपलब्ध पुलिस अधिकारियों और आरक्षियों के अतिरिक्त हैं। उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर वहां


पर अधीक्षक और अपर अधीक्षक स्तर के अधिकारियों के अलावा 25 उपाधीक्षक, डेढ़ सौ से दो सौ तक निरीक्षक व उपनिरीक्षक और 1000 सिपाही तैनात रहेंगे। पीएसी की पांच कंपनियां अतिरिक्त रूप से तैनात रहेंगी।
उन्होंने कहा कि विहिप की संकल्प सभा पर रोक के लिए वैसे ही सुरक्षा इंतजाम किए जाएंगे, जैसे उसकी 13 सितंबर की 84 कोसी अयोध्या परिक्रमा पर रोक के लिए किए गए थे। इसके तहत जगह-जगह बैरीकेटिंग की जाएगी और आने-जाने वालों की गहन जांच होगी।
विहिप ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर 18 अक्तूबर को वहां एक संकल्प सभा करने की घोषणा की थी। विहिप ने दावा किया था कि उसमें एक लाख से अधिक लोग शामिल होंगे। फैजाबाद जिला प्रशासन ने विहिप की इस संकल्प सभा पर दो दिन पहले ही प्रतिबंध लगा दिया था।
(भाषा)

 

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?