मुखपृष्ठ
Bookmark and Share
दलीप ट्राफी के सेमीफाइनल में लंबा स्पैल करने को तैयार हैं भज्जी PDF Print E-mail
User Rating: / 0
PoorBest 
Wednesday, 09 October 2013 16:15

कोच्चि। चैंपियन्स लीग टी20 के फाइनल में शानदार प्रदर्शन करने वाले हरभजन सिंह लंबी अवधि के प्रारूप में भी अपनी इस फार्म को बरकरार रखने के प्रति आश्वस्त हैं। उनकी अगुवाई में उत्तर क्षेत्र कल से यहां पूर्व क्षेत्र के खिलाफ दलीप ट्राफी सेमीफाइनल खेलेगा।
हरभजन ने सेमीफाइनल की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘निश्चित तौर पर प्रारूप बदलने पर आपको सामंजस्य बिठाना पड़ता है। मेरे लिए भी यह भिन्न नहीं है। चैंपियन्स लीग में प्रदर्शन से मेरा मनोबल बढ़ा है और मैं लाल गेंद से भी अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखने की कोशिश करूंगा। ’’
लंबी अवधि के प्रारूप में हरभजन का आखिरी मैच आस्ट्रेलिया के खिलाफ इस साल मार्च में हैदराबाद में खेला गया दूसरा टेस्ट मैच था। वह जो भी मैच उसमें खेलने से खुश हैं।
उन्होंने कहा, ‘‘मेरे लिये मैच खेलना अधिक महत्वपूर्ण है। चाहे मैं कही भी खेलूं और किसी भी प्रारूप में खेलूं। मैं प्रतिस्पर्द्धी क्रिकेट में जितनी अधिक गेंदबाजी करूंगा उतना ही बेहतर होता जाऊंगा। मैं सात महीने बाद प्रथम श्रेणी मैच खेलने जा रहा हूं और मेरा लक्ष्य


लंबे स्पैल करना है। दिन के मैच से किसी को अपने कौशल का पता करने में ही मदद नहीं मिलती बल्कि इससे उसे अपने दमखम के बारे में भी पता चलता है।’’ हरभजन ने कहा, ‘‘लंबे स्पैल से मुझे वैरीएशन आजमाने का भी मौका मिलेगा। निश्चित तौर पर सफेद कूकाबूरा की तुलना में लाल गेंद से गेंदबाजी करने में कुछ अंतर तो आता है। ’’
टर्बनेटर पूर्वी क्षेत्र को भी हल्के से नहीं लेना चाहता जबकि उनकी टीम में मनोज तिवारी और लक्ष्मीरतन शुक्ला जैसे खिलाड़ी भी नहीं हैं। संयोग से पिछली बार शुक्ला और तिवारी इस टूर्नामेंट में नहीं खेले थे। पूर्वी क्षेत्र ने नटराज बेहड़ा की कप्तानी में खिताब जीता था।
हरभजन ने कहा, ‘‘उन्होंने अच्छा प्रदर्शन ही किया होगा जो वे दो बार के चैंपियन हैं। उनकी टीम अच्छी है और फिर दलीप ट्राफी फाइनल आसान मैच नहीं हो सकता। ’’
(भाषा)

आपके विचार

 
 

आप की राय

सोनिया गांधी ने आरोप लगाया है कि 'भाजपा के झूठे सपने के जाल में आम जनता फंस गई है' क्या आप उनकी बातों से सहमत हैं?